NDTV Khabar

शीतकालीन सत्र से पहले पीएम मोदी बोले- दिल्‍ली में नहीं लग रही उतनी ठंड, बताई ये वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के शीतकालीन सत्र की शुरू होने से पहले कहा कि आमतौर पर दिवाली के साथ-साथ ठंड का मौसम भी प्रारंभ हो जाता है, लेकिन ग्‍लोबल वार्मिंग, जलवायु परिवर्तन पर इसका प्रभाव ये है कि अभी भी ठंड उतनी मात्रा में अनुभव नहीं हो रही है.

161 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शीतकालीन सत्र से पहले पीएम मोदी बोले- दिल्‍ली में नहीं लग रही उतनी ठंड, बताई ये वजह

शीतकालीन सत्र से पहले पीएम मोदी बोले- दिल्‍ली में नहीं लग रही उतनी ठंड

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के शीतकालीन सत्र की शुरू होने से पहले कहा कि आमतौर पर दिवाली के साथ-साथ ठंड का मौसम भी प्रारंभ हो जाता है, लेकिन ग्‍लोबल वार्मिंग, जलवायु परिवर्तन पर इसका प्रभाव ये है कि अभी भी ठंड उतनी मात्रा में अनुभव नहीं हो रही है. 

ट्रिपल तलाक बिल के ड्राफ्ट पर आज कैबिनेट में होगी चर्चा

उन्‍होंने कहा कि हमारा शीतकालीन सत्र शुरू हो रहा है और मुझे विश्‍वास है कि 2017 में प्रारंभ हो रहा ये शीतकालीन सत्र 2018 तक चलेगा. सरकार के कई महत्‍वपूर्ण काम दूरगामी प्रभाव पैदा करने वाले हैं. ये सभी सदन में आएंगे. सदन में अच्‍छी और सकारात्‍मक बहस होगी. कई नए सुझावों के साथ बहस होगी, तो संसद के समय का उपयोग देश के लिए अधिक कारगर होगा. 

पीएम मोदी ने कहा कि इसीलिए मुझे विश्‍वास है गुरुवार को हमारी सर्वदलीय बैठक हुई, उसमें भी स्‍वर यही है कि देश को आगे बढ़ाने की दिशा में इस सदन के सत्र का उपयोग सकारात्‍मक रूप से हो. मैं भी आशा करता हूं कि सकारात्‍मक रूप से सदन का सत्र चलेगा और देश लाभान्वित होगा, लोकतंत्र मजबूत होगा, सामान्‍य मानव की आशा, आकांक्षाओं को परिपूर्ण करने में एक नया विश्‍वास पैदा होगा.

टिप्पणियां
शुक्रवार से शुरू हुए संसद का शीतकालीन सत्र 5 जनवरी तक चलेगा. इस बार के सत्र के काफ़ी हंगामेदार होने के आसार हैं. दरअसल चुनावों के चलते संसद का सत्र देरी से बुलाए जाने से विपक्ष खासा नाराज़ है उसे लगता है सरकार ने संसद की जानबूझकर अनेदखी की. 

VIDEO: कांग्रेस ने चुनाव आयोग को पीएम की 'कठपुतली' बताया
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement