डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से पहले अमेरिकी कांग्रेस के दो नेताओं ने कश्मीर को लेकर कहा...

रिपब्लिकन जॉर्ज होल्डिंग ने कहा कि कश्मीर में स्थिर राजनीतिक स्थिति इसके आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण

डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से पहले अमेरिकी कांग्रेस के दो नेताओं ने कश्मीर को लेकर कहा...

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • डेमोक्रेट अमी बेरा और रिपब्लिकन जॉर्ज होल्डिंग भारत की यात्रा पर
  • अमी बेरा बोले- हमने कश्मीर में नेताओं की नजरबंदी पर चिंता जताई है
  • बीते हफ्ते चार अमेरिकी सांसदों ने वहां के विदेश मंत्री को पत्र लिख था
नई दिल्ली:

अमेरिकी कांग्रेस की दो विपक्षी राजनीतिक धाराओं की ओर से आज कश्मीर के मुद्दे पर अपना रुख जाहिर किया गया. दोनों का यही विचार है कि नरेंद्र मोदी सरकार को हिरासत में रखे गए नेताओं को रिहा करना चाहिए और कश्मीर घाटी में जल्द से जल्द हालात सामान्य करना चाहिए. अमेरिकी कांग्रेस में एशिया पैसिफिक ग्रुप ऑफ हाउस फॉरेन अफेयर्स कमेटी के डेमोक्रेट चेयरमैन अमी बेरा और रिपब्लिकन जॉर्ज होल्डिंग, जो कि इंडिया कॉकस के सह-अध्यक्ष हैं, भारत का दौरा कर रहे हैं.

अमी बेरा ने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि वे कश्मीर में अमेरिकी कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को लाने के इच्छुक हैं. उन्होंने कहा, "हमने कश्मीर में नेताओं की लगातार नजरबंदी पर चिंता व्यक्त की है. हम वहां जल्द सामान्य स्थिति देखना चाहेंगे."

जॉर्ज होल्डिंग ने भी बेरा की तरह की भावना व्यक्त की. उन्होंने कहा कि  "कश्मीर में स्थिर राजनीतिक स्थिति इसके आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है. कश्मीर के आर्थिक विकास को गति देना महत्वपूर्ण है."

UN चीफ ने कश्मीर के बाद अब CAA पर दिया बयान, कहा - भारत में मुस्लिमों को लेकर चिंता है

पहले भी चिंता जता चुके हैं अमेरिकी सांसद
इससे पहले बीते हफ्ते अमेरिकी सीनेट के चार वरिष्ठ सांसदों ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो को पत्र लिखकर कश्मीर में पिछले छह महीने से ज्यादा समय से इंटरनेट बैन को लेकर चिंता जाहिर की थी. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में इंटरनेट बैन कर दिया गया था. इसके साथ ही इस खत में हिरासत में रखे गए राजनेताओं का भी जिक्र किया गया था. अपने खत में सांसदों ने नागरिकता संशोधन कानून और सीएए का भी जिक्र किया था, जिसको लेकर देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हो रहे हैं. दो डेमोक्रेट और दो रिपब्लिकन सीनेटरों की ओर से लिखे गए खत में कहा गया है कि भारत सरकार कश्मीर में लगातार इंटरनेट पर बैन लगाए हुए है. भारत ने किसी लोकतंत्र की ओर से अब तक सबसे ज्यादा लंबे समय तक इंटरनेट पर बैन लगाया है. इससे चिकित्सा देखभाल, व्यवसाय और शिक्षा में सात मिलियन लोगों को परेशानी आ रही है. पोम्पियो को लिखे गए खत में कहा गया है कि बड़ी राजनेताओं सहित सैंकड़ों कश्मीरियों को एहतियातन हिरासत में रखा गया है. साथ ही कहा है कि 'इन कदमों का गंभीर परिणाम होगा.'

जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव हुए स्थगित, सुरक्षा कारणों का दिया गया हवाला

व्यापार के मोर्चे पर भारत  'अच्छा' बर्ताव नहीं कर रहा: ट्रंप
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शिकायत की है कि व्यापार के मामले में भारत उनके देश के साथ 'कोई बहुत अच्छा' बर्ताव नहीं कर रहा है. उन्होंने यह संकेत दिया कि नवंबर में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले भारत के साथ किसी बड़े द्विपक्षीय व्यापार समझौते की संभावना कम है. ट्रंप इसी महीने 24- 25 तारीख को भारत जा रहे हैं. यह राष्ट्रपति के रूप में ट्रंप की पहली भारत यात्रा होगी. जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्हें इस यात्रा के दौरान भारत के साथ किसी व्यापार समझौते की उम्मीद है, तो उन्होंने कहा, 'हम भारत के साथ एक व्यापार समझौता कर सकते हैं, लेकिन मैं वास्तव में बड़े समझौते को बाद के लिए छोड़ रहा हूं.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने शिकायत की, 'हमारे साथ (व्यापार में) भारत ने कोई बहुत अच्छा बर्ताव नहीं किया है.' ट्रंप अमेरिकी हितों को सबसे आगे रखने की अपनी नीति पर चलने के लिए जाने जाते हैं और इससे पहले उन्होंने भारत को 'टैरिफ किंग' कहा था. उनका कहना था कि भारत अमेरिकी उत्पादों पर भारी शुल्क लगाता है.

सरकारी सूत्रों का दावा- देशहित के खिलाफ थीं ब्रिटिश MP डेबी अब्राहम्स की गतिविधियां

ट्रंप की भारत यात्रा के लिए तैयारी तेज
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से पहले अहमदाबाद में झुग्गी-बस्तियों के सामने दीवार खड़ी करने संबंधी खबरों के बीच उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग ने 'आगरा में यमुना को स्वच्छ अविरल बनाने के लिए'' गंग नहर से पानी देने का फैसला किया है. उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता धर्मेंद्र सिंह फोगाट ने बताया कि 'अमेरिकी राष्ट्रपति (डोनाल्ड ट्रंप) के आगरा आगमन को ध्यान में रखते हुए यमुना नदी की पर्यावरणीय स्थिति में सुधार के लिए मांट नहर के रास्ते 500 क्यूसेक गंगाजल मथुरा में छोड़ा गया है. यह पानी अगले तीन दिन में मथुरा और उसके 24 घंटे बाद 21 फरवरी की दोपहर तक आगरा पहुंचेगा.' फोगाट ने कहा, 'विभाग की कोशिश है कि गंगाजल की यह मात्रा यमुना में 24 फरवरी तक निरंतर बनी रहे.'

J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई

झुग्गीवासियों को जगह खाली करने का नोटिस
गुजरात के अहमदाबाद नगर निगम (AMC) ने नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम के समीप झुग्गियों में रह रहे कम से कम 45 परिवारों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की 24 फरवरी को निर्धारित यात्रा से पहले उस जगह को खाली करने का नोटिस दिया है. हालांकि अधिकारियों ने इस प्रस्तावित हाईप्रोफाइल यात्रा और नोटिस जारी किए जाने के बीच किसी तरह के संबंध से इनकार किया है, लेकिन झुग्गीवासियों ने इस कदम के समय को लेकर सवाल उठाया है. यह कदम ऐसे समय उठाया गया है, जब महज कुछ दिन पहले एएमसी ने उस मार्ग पर पड़ने वाली झुग्गियों को कथित रूप से ढंकने के लिए एक दीवार खड़ी करनी शुरू की जिस मार्ग से अमेरिकी राष्ट्रपति के गुजरने की संभावना है.

नेशनल कॉन्फ्रेंस की चुनाव आयोग से गुहार, नेताओं पर लगा PSA, पार्टी कैसे लड़े पंचायत चुनाव?

VIDEO : ब्रिटिश सांसद को एयरपोर्ट से लौटाया

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com