NDTV Khabar

प्रियंका गांधी का मीडिया की आजादी को लेकर योगी सरकार पर निशाना- पत्रकार बंधक बनाए जा रहे हैं, सवालों पर पर्दा डाला जा रहा है...

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेर रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर पलटवार करते हुए कहा था कि यह 'अंगूर खट्टे हैं' का मामला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रियंका गांधी का मीडिया की आजादी को लेकर योगी सरकार पर निशाना- पत्रकार बंधक बनाए जा रहे हैं, सवालों पर पर्दा डाला जा रहा है...

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी. (फाइल तस्वीर)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को उत्तर प्रदेश में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार पर मीडिया की आवाज को दबाने का आरोप लगाया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘पत्रकार बंधक बनाए जा रहे हैं, सवालों पर पर्दा डाला जा रहा है, समस्याओं को दरकिनार किया जा रहा है. प्रचंड बहुमत पाने वाली उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार जनता के सवालों से बच रही है. नेताजी ये पब्लिक है, ये सब जानती है. सवाल पूछेगी भी और जवाब लेगी भी.' कांग्रेस की पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी महासचिव ने मीडिया की एक खबर को भी टैग किया है जिसमें आरोप लगाया गया है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुरादाबाद के दौरे के दौरान पत्रकारों को कमरे में बंद कर दिया गया.

बता दें, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार को घेर रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर पलटवार करते हुए कहा था कि यह 'अंगूर खट्टे हैं' का मामला है. योगी ने मीडिया से बातचीत में प्रियंका पर तंज कसते हुए कहा, ‘कांग्रेस नेता कानून व्यवस्था तथा अन्य मुद्दों पर ट्वीट करके मेरी सरकार को घेरने की कोशिश कर रही हैं लेकिन दरअसल यह मामला ‘अंगूर खट्टे हैं' का है.' साथ ही उन्होंने कहा कि प्रियंका की पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी से लोकसभा चुनाव हार गये इसलिये दिल्ली, इटली या इंग्लैंड मे बैठकर सुर्खियों में रहने के लिये वह कुछ न कुछ टिप्पणी तो करेंगी ही.


सीएम योगी का प्रियंका गांधी को जवाब- अंगूर खट्टे हैं...अब दिल्ली-इटली-इंग्लैंड में बैठकर कमेंट करना पड़ रहा है ताकि हेडलाइन में बने रहें

गौरतलब है कि प्रियंका ने शनिवार को प्रदेश सरकार को कानून व्यवस्था के मुद्दे पर घेरते हुए कहा था कि आए दिन आपराधिक वारदात हो रही हैं लेकिन सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही. क्या सरकार ने अपराधियों के आगे आत्मसमर्पण कर दिया है? योगी ने दावा किया कि पिछले दो वर्षों में प्रदेश की कानून व्यवस्था में सकारात्मक परिवर्तन आया है. अच्छी कानून व्यवस्था के चलते हमारा प्रदेश निवेशकों के लिए आकर्षक गंतव्य बना है और यहां भारी मात्रा में निवेश हो रहा है.

प्रियंका गांधी ने योगी सरकार से पूछा- 'क्या अपराधियों के सामने कर दिया सरेंडर?' तो यूपी पुलिस ने दिया ये जवाब

उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को प्रतिमाह उद्यमियों की स्थानीय स्तर की समस्याओं का मुस्तैदी से समाधान करने के निर्देश दिये हैं. निवेशकों को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार ने कदम उठाये हैं. अब किसी भी निवेशक को लखनऊ आने की जरूरत नहीं है. निवेशक अपनी सम्पूर्ण जानकारी आनलाइन देकर लाभ उठा सकता है.

कैदी की 'चुनौती' के बाद हरकत में यूपी सरकार, 21 जेलरों और 44 डिप्टी जेलरों का तबादला

सीएम योगी ने कहा कि लोकसभा चुनाव प्रक्रिया सम्पन्न होने के बाद प्रशासनिक सक्रियता को निरन्तर बनाए रखने के लिए वह लगातार मंडलों का दौरा कर रहे हैं. बेहतर शासन के लिये जिला प्रशासन को और चुस्त और दुरुस्त किया जाएगा. साथ ही जनकल्याणकारी योजनाओं को कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार गन्ना किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए हमेशा तत्पर है. सरकार की मंशा है कि हर हाल में किसानों के गन्ना मूल्य का शत-प्रतिशत भुगतान हो. सरकार ने पिछले दो वर्ष में लगभग 70 हजार करोड़ रुपये के बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान कराया है, जो अपने आप में एक उपलब्धि है.

(इनपुट- भाषा)

प्रियंका गांधी ने बीमार बच्ची के इलाज के लिए योगी आदित्यनाथ से की अपील, कही यह बात...

टिप्पणियां

Video: उन्नाव जेल में हथियार लहराने के मामले में 21 जेलरों और 44 डिप्टी जेलरों का तबादला



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement