NDTV Khabar

बीजेपी नेताओं के विवादित बयानों पर प्रियंका गांधी ने Video शेयर कर कसा तंज, कहा- सही कैच पकड़ने के लिए...

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने क्रिकेट में सीमा रेखा के निकट मुश्किल कैच पकड़े जाने का वीडियो शेयर करते हुए शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी नेताओं के विवादित बयानों पर प्रियंका गांधी ने Video शेयर कर कसा तंज, कहा- सही कैच पकड़ने के लिए...

प्रियंका गांधी इन दिनों सोशल मीडिया के जरिए बीजेपी के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार किए हुए हैं

नई दिल्ली:

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने क्रिकेट में सीमा रेखा के निकट मुश्किल कैच पकड़े जाने का वीडियो शेयर करते हुए शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा. कांग्रेस नेता ने कहा गुरुत्वाकर्षण, गणित और ओला-उबर की बातें करने से अर्थव्यवस्था की स्थिति नहीं सुधारी जा सकेगी, बल्कि इसके लिए सच्ची भावना होनी जरूरी है. उन्होंने ट्विटर पर क्रिकेट मैच के एक हिस्से का वीडियो शेयर करते हुए कहा, ‘‘ सही कैच पकड़ने के लिए अंत तक गेंद पर नजर और खेल की सच्ची भावना होना जरुरी है. वरना आप सारा दोष गुरुत्वाकर्षण, गणित, ओला-उबर और इधर-उधर की बातों पर मढ़ते रहेंगे. भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जनहित में जारी.'

चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का आरोप : प्रियंका गांधी ने पूछा, क्या पुलिस इसलिए चुप है क्योंकि आरोपी बीजेपी से है


प्रियंका ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें एक फील्डर सीमा रेखा के निकट मुश्किल कैच पकड़ते हुए दिख रहा है. इसके माध्यम से उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के ओला-उबर वाले बयान और ‘गुरुत्वाकर्षण की खोज आईंस्टीन द्वारा करने' से जुड़ी वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी को लेकर कटाक्ष किया.

टिप्पणियां

चुनाव से पहले बोला गया कि ओला-उबर ने रोजगार बढ़ाए, अब बोला जा रहा है इनकी वजह से मंदी आ गई, सरकार इतनी कन्फ्यूज क्यों है : प्रियंका गांधी

बता दें कि गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पीयूष गोयल सोशल मीडिया के निशाने पर आ गए थे, दरअसल जब ये सवाल उठा कि मौजूदा दर से भारत 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था कैसे बनेगा तो पीयूष गोयल ने सुझाव दिया कि हिसाब-किताब में मत पड़िए. इस दौरान उन्होंने न्यूटन का क्रेडिट आइंस्टीन को दे डाला. उन्होंने कहा कि गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत की खोज आइंस्टीन नहीं कर पाते अगर वो हिसाब-किताब में पड़ते. तो वहीं  मंगलवार को निर्मला सीतारमण ने कहा था कि  वाहन क्षेत्र में नरमी के कारणों में युवाओं की सोच में बदलाव भी है. लोग अब खुद का वाहन खरीदकर मासिक किस्त देने के बजाए ओला और उबर जैसी आनलाइन टैक्सी सेवा प्रदाताओं के जरिये वाहनों की बुकिंग को तरजीह दे रहे हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement