पुलवामा आतंकी हमला: स्मृति ईरानी ने नवजोत सिंह सिद्धू पर बोला हमला, बताया आधुनिक भारत का ‘जयचंद’

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने नाम लिए बगैर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपना दोस्त मानने वाले लोग आधुनिक भारत के जयचंद हैं. 

पुलवामा आतंकी हमला: स्मृति ईरानी ने नवजोत सिंह सिद्धू पर बोला हमला, बताया आधुनिक भारत का ‘जयचंद’

स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर एक बार फिर से अपने बयान की वजह से नवजोत सिंह सिद्धू निशाने पर लिए गये हैं. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने नाम लिए बगैर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए बुधवार को कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपना दोस्त मानने वाले लोग आधुनिक भारत के जयचंद हैं. 

स्मृति ईरानी का ममता बनर्जी पर करारा हमला, कहा-SC के फैसले से 'दीदी' की दादागिरी पर लगी रोक

स्मृति ईरानी ने कहा कि भारतीय होने के नाते मेरा सोचना है कि बीमार इरादों वाले प्रत्येक पाकिस्तानी को उचित सबक सिखाया जाना चाहिए. स्मृति ईरानी ने बिना नाम लिए कहा, “पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपना दोस्त मानने वाले लोग आधुनिक भारत के जयचंद हैं. भारत की जनता ऐसे लोगों को समय आने पर जरूर सबक सिखाएगी.” जयचंद ने 1192 में पृथ्वीराज चव्हाण को युद्ध के समय धोखा दिया और मोहम्मद गौरी से जा मिला था.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को पाकिस्तान और आतंकवादियों पर कड़ी से कड़ी कारवाई करने के लिए पूरी छूट दे दी है और हमें अपने देश कि सेना पर पूरा विश्वास है. केंद्रीय मंत्री ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा पुलवामा हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत मांगने पर कहा कि भारत ने मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले में हाफिज सईद के मास्टरमाइंड होने के सबूत दिये थे, लेकिन पाकिस्तान ने इस पर कोई भी कार्रवाई नहीं की. पाकिस्तान के साथ क्रिकेट मैच खेले जाने के सवाल पर स्मृति ईरानी ने कहा कि इस सवाल की इस समय कोई प्रासंगिकता नहीं है. 

विपक्ष से 'जंग' के लिए BJP के तरकश में 'तीर' तैयार, 2019 में इनके हाथ में कांग्रेस पर 'हमले' की कमान!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दरअसल, गुरुवार यानी 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए. इस घटना पर पीएम मोदी ने सीधे तौर पर कहा है कि आतंकी बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं और अब उन्हें इसका अंजाम भी भूगतना होगा. (इनपुट भाषा से)

VIDEO: पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड ढेर