Pulwama Terror Attack: पोंगल मनाकर पांच दिन पहले ही ड्यूटी पर लौटे थे शहीद सुब्रमण्यम

जी सुब्रमण्यम परिवार के साथ पोंगल मनाने के लिए अपने पैतृक गांव आए थे और महज पांच दिन पहले ही परिवार के लोगों को विदा कहकर ड‍्यूटी पर लौटे थे.

Pulwama Terror Attack: पोंगल मनाकर पांच दिन पहले ही ड्यूटी पर लौटे थे शहीद सुब्रमण्यम

Pulwama Terror Attack: पुलवामा आतंकी हमला

नई दिल्ली:

जी सुब्रमण्यम परिवार के साथ पोंगल मनाने के लिए अपने पैतृक गांव आए थे और महज पांच दिन पहले ही परिवार के लोगों को विदा कहकर ड‍्यूटी पर लौटे थे. परिवार में किसी को भी कोई इल्हाम नहीं था कि महज पांच दिन बाद ही बेटे के चले जाने का दुखद समाचार उन्हें मिलेगा. जम्मू कश्मीर में आतंकवादी हमले में मारे गए सीआरपीएफ जवानों में से एक जी सुब्रमण्यम तमिलनाडु के तूतीकोरिन जिले में अपने पैतृक गांव में अपने परिवार के साथ पोंगल मनाने आए थे. 

Pulwama Terror Attack: जिनकी शहादत से देश की आंखे हैं नम, सरकारी रिकॉर्ड में नहीं कहलाएंगे 'शहीद', तेजस्वी ने की यह मांग

उनकी मौत की खबर से परिवार वाले सदमे में है.  शहीद जवान ने अपनी पत्नी कृष्णावेनी से आखिरी बार हमले के दिन बृहस्पतिवार को सुबह ही बात की थी. पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमले में 40 जवान शहीद हो गए.  उनके परिवार के एक सदस्य ने बताया कि सवालापेरी के रहने वाले सुब्रमण्यम 2014 में सीआरपीएफ में शामिल हुए थे और वह जम्मू कश्मीर जाने से पहले उत्तर प्रदेश और चेन्नई में तैनात रह चुके थे. उनकी 2017 में शादी हुई थी.

पुलवामा आतंकी हमला: यूपी के देवरिया ने भी खोया एक वीर सपूत, शहीद के पिता बोले- विजय को रह गया इस बात का मलाल

उन्होंने बताया कि सुब्रमण्यम पोंगल उत्सव के लिए पिछले महीने लंबी छुट्टी पर घर आए थे और वह 10 फरवरी को ही लौटे थे. उनके अलावा राज्य में अरियालुर जिले के सी. शिवचंद्रन भी हमले में शहीद हो गए . चेन्नई में मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शुक्रवार को राज्य के दोनों सीआरपीएफ जवानों के परिवार को 20-20 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की.  उन्होंने जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन हमलावर के वीभत्स हमले की निंदा की.


पुलवामा हमले में पंजाब के 4 जवान शहीद, परिजनों ने कहा- सरकार सबक सिखाए
 
एक विज्ञप्ति में पलानीस्वामी ने कहा कि वह यह जानकर दुखी है कि 40 शहीदों में से दो तमिलनाडु के थे. द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन ने भी हमले की निंदा की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैं बहुत दुखी हूं और अवंतिपुरा में सीआरपीएफ जवानों पर कायरतापूर्ण हमले की कड़ी निंदा करता हूं.  द्रमुक सभी शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदनाएं जताते हुए देश की सेवा में लगे सुरक्षा कर्मियों के साथ मजबूती से खड़ी है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: पुलवामा हमलाः शहीद जवानों का पार्थिव शरीर लाया गया वडगाम, दी गई श्रद्धांजलि