NDTV Khabar

पुणे : चालक की नींद बनी हादसे का कारण, दुर्घटना में 18 मजदूरों की मौत

प्रारंभिक जांच के मुताबिक, टेम्पो चालक को नींद का झटका आने के कारण यह दुर्घटना घटी और वाहन में भारी निर्माण सामग्री होने से कई मजदूर घायल हो गए. 

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पुणे : चालक की नींद बनी हादसे का कारण, दुर्घटना में 18 मजदूरों की मौत

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

पुणे: कर्नाटक से पुणे जा रहे एक टेम्पो के मंगलवार को यहां पलट जाने से उसमें सवार 18 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 19 अन्य घायल हो गए. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, 'दुर्घटना पुणे-सतारा राजमार्ग पर खंडाला घाट के खम्बाटकी सुरंग के पास हुई.' टेम्पो राजमार्ग के एक दुर्घटना संभावित मोड़ पर एक बैरीकेड से टकरा गया और पलट गया. अधिकारी के मुताबिक, टेम्पो में निर्माण संबंधी औजार लदे थे. यह जोर के झटके के साथ खाई में गिर गया. दुर्घटना इतनी घातक थी कि चालक सहित कई लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया.

यह भी पढ़ें : सड़क दुर्घटना में एक युवक की मौत, एक गंभीर रूप से घायल 

पुलिस ने कहा कि मुख्य रूप से बीजापुर के रहने वाले करीब 36 मजदूर पुणे के पास स्थित शिरवल में एक निर्माण स्थल पर काम करने जा रहे थे. प्रारंभिक जांच के मुताबिक, टेम्पो चालक को नींद का झटका आने के कारण यह दुर्घटना घटी और वाहन में भारी निर्माण सामग्री होने से कई मजदूर घायल हो गए. 

टिप्पणियां
VIDEO : DiaGeo-एनडीटीवी रोड टू सेफ्टी मुहिम: सड़क हादसे में शिकार हुए लोगों का बचाव​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement