नीति आयोग की रिपोर्ट पर पंजाब के मंत्रियों ने उठाए सवाल, कहा- राज्य में अगर कोई भूखा सोता है तो वह डाइटिंग कर रहा होगा

मंत्री एसएस धर्मसोट ने रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा है कि पंजाब में कभी भुखमरी नहीं हुई है. सभी को काम करना चाहिए और जो काम करता है वह भूखे पेट नहीं मर सकता है. यह आंकड़े गलत हैं.

नीति आयोग की रिपोर्ट पर पंजाब के मंत्रियों ने उठाए सवाल, कहा- राज्य में अगर कोई भूखा सोता है तो वह डाइटिंग कर रहा होगा

नीति आयोग की रिपोर्ट पर पंजाब सरकार के मंत्रियों ने सवाल उठाए हैं.

खास बातें

  • नीति आयोग की रिपोर्ट
  • 'दीर्घकालिक विकास लक्ष्य सूचकांक' पर आधारित
  • पंजाब सरकार के मंत्रियों ने उठाए सवाल
नई दिल्ली:

राज्यों को लेकर जारी नीति आयोग की रिपोर्ट 'दीर्घकालिक विकास लक्ष्य सूचकांक' (Sustainable Development Goal Index) में पंजाब के 2 अंक नीचे खिसक जाने पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्दू ने कहा है पंजाब में कोई भूखा नहीं सोता है और जो भी ऐसा कर रहा है, वह अपना वजन घटाने की कोशिश रहा होगा. बलबीर सिद्धू ने कहा, "मुझे नहीं लगता, पंजाब में ऐसा कोई भी है, जो भूखे पेट सोता है, और अगर कोई ऐसा करता है, तो वह संभवतः वज़न घटाने के लिए करता है... पंजाब में हम लोगों की खुराक इतनी स्वास्थ्यकर और समृद्ध है, किसी के भूखे पेट सोने का सवाल ही पैदा नहीं होता. 

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं एक दूसरे मंत्री एसएस धर्मसोट ने रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा है कि पंजाब में कभी भुखमरी नहीं हुई है. सभी को काम करना चाहिए और जो काम करता है वह भूखे पेट नहीं मर सकता है. यह आंकड़े गलत हैं. उन्होंने कहा, 'हम आटा और दाल तक फ्री देते हैं क्या कोई रोटी भी नहीं बना सकता है.