Hindi news home page

पंजाब में VIP कल्‍चर पर लगाम, सरकारी वाहनों से लालबत्तियां हटाई गईं

ईमेल करें
टिप्पणियां
पंजाब में VIP कल्‍चर पर लगाम, सरकारी वाहनों से लालबत्तियां हटाई गईं

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पहली कैबिनेट बैठक में ही सरकारी वाहनों से लालबत्‍ती हटाने का फैसला लिया था.(फाइल फोटो)

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों की गाड़ियों पर से लालबत्ती हटा ली गई हैं क्योंकि अमरिंदर सिंह सरकार ने सरकारी वाहनों पर उसके उपयोग पर रोक लगाने का फैसला किया है. एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कांग्रेस सरकार द्वारा इसके इस्तेमाल पर रोक लगाने का निर्णय करने के शीघ्र बाद अधिसूचना का इंतजार किए बगैर ही मुख्यमंत्री एवं मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों की गाड़ियों से लालबत्ती हटा ली गई है.

इसके अलावा, अमरिंदर सिंह मंत्रिमंडल ने कांग्रेस के विधानसभा चुनाव घोषणापत्र के अनुसार वीआईपी संस्कृति छोड़ने के सरकार के कदम के तहत दो सालों तक मंत्रियों की विदेश यात्राओं, सरकारी खर्च पर स्वागत समारोहों के आयोजन पर रोक लगाने का भी फैसला किया गया. हालांकि प्रवक्ता ने बताया कि घोषणापत्र के अनुसार मुख्यमंत्री एवं कैबिनेट मंत्रियों को छूट दी गई है लेकिन उन्होंने अपने आप को इस फैसले के दायरे में लाने का फैसला किया.

उन्होंने बताया कि यह कदम चर्चा का विषय रहे वीआईपी संस्कृति की व्यवस्था को स्वच्छ बनाने के सरकार के प्रयास के तहत उठाया गया है क्योंकि वीआईपी संस्कृति से सालों से सरकारी खजाने से धन का अपव्यय होता है. राज्य सरकार को पिछली शिअद-भाजपा सरकार से विरासत में ऋणग्रस्‍तता मिली है. अमरिंदर सिह मंत्रिमंडल ने पहली कैबिनेट बैठक में 120 निर्णय लिए थे. उसमें वीआईपी संस्‍कृति पर लगाम लगाने का भी फैसला लिया गया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement