NDTV Khabar

राफेल डील के फैसले पर होगा पुनर्विचार? सुप्रीम कोर्ट आज करेगा याचिकाओं पर सुनवाई

राफेल के 14 दिसंबर के फैसले पर चार याचिकाएं दाखिल की गई हैं. पहली संशोधन याचिका केंद्र सरकार द्वारा दाखिल की गई जिसमें कहा गया है कि कोर्ट फैसले में 'CAG रिपोर्ट संसद के सामने रखी गई' टिप्पणी को ठीक करे.

1.1K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल डील के फैसले पर होगा पुनर्विचार? सुप्रीम कोर्ट आज करेगा याचिकाओं पर सुनवाई

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

राफेल डील मामले (Rafale Deal) में दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)में सुनवाई होगी. सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के चेंबर में होगी. पीठ में जस्टिस एसके कौल और जस्टिस के एम जोसेफ भी होंगे. दरअसल, राफेल के 14 दिसंबर के फैसले पर चार याचिकाएं दाखिल की गई हैं. पहली संशोधन याचिका केंद्र सरकार द्वारा दाखिल की गई जिसमें कहा गया है कि कोर्ट फैसले में 'CAG रिपोर्ट संसद के सामने रखी गई' टिप्पणी को ठीक करे. केंद्र का कहना है कि कोर्ट ने सरकारी नोट की गलत व्याख्या की है.

इसके अलावा प्रशांत भूषण, यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी ने पुनर्विचार याचिका में अदालत से राफेल आदेश की समीक्षा करने के लिए कहा है, जिसमें कहा गया कि सरकार ने राफेल जेट का अधिग्रहण करने के लिए निर्णय लेने की सही प्रक्रिया का पालन किया है. आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह की याचिका भी लंबित है. प्रशांत भूषण की चौथी याचिका जो सरकार द्वारा गए नोट में अदालत को गुमराह करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई चाहती है. इसमें लिखा गया कि सीएजी ने राफेल पर संसद को अपनी रिपोर्ट सौंपी. 

राफेल सौदे को लेकर डसॉल्ट के सीईओ का बड़ा बयान, डील में कोई घोटाला नहीं हुआ


इन याचिकाओं पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 21 फरवरी को ही अपनी सहमति दी है. वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने राफेल मामले पर याचिकाओं पर जल्द सुनवाई की मांग की थी. इस पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि फिलहाल तारीख तय करना मुश्किल है, लेकिन फिर भी वो इस पर विचार करेंगे. साथ ही सीजेआई ने कहा कि राफेल से संबंधित सभी याचिकाओं की सुनवाई के लिए जजों की बेंच का गठन करना आवश्यक है. 

राफेल सौदा : सुप्रीम कोर्ट ने किया फैसले का बचाव, याचिकाकर्ता को लगाई फटकार

वकील प्रशांत भूषण ने राफेल मामले में कुछ अधिकारियों के खिलाफ न्यायालय को गुमराह करने के लिए झूठी गवाही देने संबंधी अभियोग की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई का भी अनुरोध किया. बता दें, सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी आप सासंद संजय सिंह, प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा की याचिकाओं पर फैसला सुनाया था. इन याचिकाओं में राफेल डील की कोर्ट की निगरानी में एसआईटी जांच की मांग की गई थी.

राफेल पर क्या मोदी सरकार ने संसद में गलत दावा किया? कैग की रिपोर्ट में खुली पोल

टिप्पणियां

VIDEO- राफेल मामले की फिर सुनवाई को तैयार सुप्रीम कोर्ट

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement