NDTV Khabar

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला: भगोड़ा विजय माल्या भारत छोड़ने से पहले बीजेपी नेताओं से मिला था

भारतीय बैंकों को चूना लगाने वाला भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा बयान दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला: भगोड़ा विजय माल्या भारत छोड़ने से पहले बीजेपी नेताओं से मिला था

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय बैंकों को चूना लगाने वाला भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा बयान दिया है. शनिवार को राहुल गांधी ने दावा किया कि भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या भारत छोड़कर भागने से पहले भारतीय जनता पार्टी के नेताओं से मिला था. हालांकि, राहुल गांधी ने बीजेपी नेताओं का नाम बताने से इनकार कर दिया. लंदन में भारतीय पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने बड़े विजय माल्या जैसे बड़े उद्योगपतियों के लिए नरम रुख अपनाने का आरोप लगाकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला. बता दें कि विजय माल्या बैंकों के घोटाले में आरोपी और वांटेड है. 

CM केजरीवाल का फिर हमला, कहा- मोदी सरकार कर रही देश के साथ गद्दारी, CBI ने चोकसी के भागने में मदद की

लंदन में राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि भारत छोड़ने से पहले विजय माल्या बीजेपी नेताओं से मिला था. इसका दस्तावेज भी है. मगर मैं उनका नाम नहीं बताऊंगा. बहरहाल, भारतीय जनता पार्टी की ओर से अभी तक इस आरोप पर जवाब आना बाकी है. बता दें कि अभी राहुल गांधी लंदन के दौरे पर हैं, जहां विजय माल्या मार्च 2016 से रह रहा है. माल्या पर भारतीय बैंकों से करीब 9 हजार करोड़ रुपये लोन लेकर फरार होने का आरोप है. 

माल्या ने कहा, जेल में कुदरती रोशनी और हवा नहीं, लंदन की कोर्ट ने मंगवाया VIDEO

इस मामले पर कमेंट करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि भारतीय जेलें काफी कठिन स्थान हैं, मगर विजय माल्या जैसे भगोड़े को अलग तरह से ट्रीट नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि जहां तक माल्या की बात है तो भारतीय जेल बहुत सभ्य हैं. भारतीय लोगों के लिए न्या समान होना चाहिए.'

लोगों के पास नौकरी नहीं इसलिए करते हैं मोदी और ट्रंप जैसे नेताओं की तारीफ : राहुल

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार विजय माल्या, भगोड़े डायमंड कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी जैसे लोगों के लिए उदार है, जिन्होंने भारतीय बैंकों को धोखा दिया है. आगे उन्होंने कहा कि नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और प्रधानमंत्री में संबंध हैं. यही वजह है कि अभी तक कोई एक्शन उनके खिलाफ नहीं लिया गया है. 

भारत आने, कानून का सामना करने को तैयार है माल्या, अधिकारियों को दिया संकेत

गौरतलब है कि विजय मल्या ने लंदन कोर्ट में ये दलील दी कि आर्थर रोड जेल में रोशनी नहीं आती और वहां कई बार मानवाधिकारों का उल्लंघन होता है. इसके चलते लंदन कोर्ट ने इस जेल का वीडियो मांगा है वो भी बीच दोपहर में शूट किया गया. जो टीम भारत से लंदन गई है उसने कोर्ट को यक़ीन दिलाया कि वो वीडियो तीन हफ़्ते के अंदर कोर्ट में पेश कर देगी. इधर भारत सरकार का कहना है कि जेल के हालात पर बेहद विचार करके विजय माल्या अपने प्रत्यर्पण में देरी कर रहा है. लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को जमानत दे दी है. प्रत्यर्पण मामले में विजय माल्या के खिलाफ अगली सुनवाई अब 12 सितंबर को होगी. सुनवाई के दौरान लंदन की अलादत ने भारत से उस जेल का एक वीडियो भी देने को कहा है, जहां प्रत्यर्पण के बाद माल्या को रखने की योजना है. माल्या ने कुछ दिन पहले भारतीय जेलों की खराब स्थिति का हवाला देते हुए याचिका लगाई थी. 

भारत आने और कानून का सामना करने को तैयार है विजय माल्या : सूत्र

टिप्पणियां
ईडी ने पिछले साल माल्य के खिलाफ 900 करोड़ रुपये के आईडीबीआई बैंक-किंगफिशर एयरलाइंस ऋण धोखाधड़ी मामले में अपना पहला आरोपपत्र दायर किया था. नया आरोपपत्र बैंकों के समूह की ओर से भारतीय स्टेट बैंक द्वारा दर्ज की गई शिकायत पर आधारित है. भारतीय स्टेट बैंक ने माल्या एवं अन्य के खिलाफ 2005-06 में लिए गए ऋण को नहीं चुकाकर बैंकों को 6,027 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने की शिकायत की थी. 

VIDEO: विजय माल्या ने की बैंकों का पैसा चुकाने की पेशकश


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement