NDTV Khabar

राहुल गांधी सीएजी, सुप्रीम कोर्ट, वायुसेना की बात नहीं मानते; बेशर्मी से बोलते हैं झूठ : रविशंकर प्रसाद

कहा- राहुल जी 20 देशों के राजदूतों से मिले, उन्हें पुलवामा के बारे में बताया कि नहीं? कांग्रेस के स्टैंड के बारे में बताया कि नहीं?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी सीएजी, सुप्रीम कोर्ट, वायुसेना की बात नहीं मानते; बेशर्मी से बोलते हैं झूठ : रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से कई सवाल पूछे हैं.

खास बातें

  1. कहा - जब डोकलाम हुआ तब वे चीन के राजदूत से मिले थे
  2. तब उन्होंने क्या कहा था? देश का मूड बताया था कि नहीं?
  3. राहुल गांधी की राजनयिकों के साथ कल अनौपचारिक भोज-बातचीत हुई थी
नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि राहुल गांधी बहुत सवाल उठाते हैं लेकिन सिर्फ 70 सेकंड की प्रेस कॉन्फ्रेंस की. कल वे जी 20 देशों के राजदूतों से मिले. उन्होंने पुलवामा के बारे में बताया कि नहीं? कांग्रेस के स्टैंड के बारे में बताया कि नहीं? अपनी और देश की पोजीशन बताई?

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जब डोकलाम हुआ तब वे चीन के राजदूत से मिले थे. तब उन्होंने क्या कहा था? देश का मूड बताया कि नहीं? उन्होंने कहा कि राहुल के झूठ, जो वे बेशर्मी से बोलते हैं, उस पर कुछ नहीं कहना है. राहुल सीएजी को नहीं मानते, सुप्रीम कोर्ट को नहीं मानते, वायुसेना की बात नहीं मानते. राहुल राफेल के बारे में अगर पाकिस्तान से सर्टिफिकेट चाहते हैं, तो हम इस पर मदद नहीं कर सकते.

गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को विदेशी राजनयिकों से मुलाकात की थी. यह मुलाकात तकरीबन दो घंटे चली थी. इस कार्यक्रम के बाद कांग्रेस के विदेश मामलों के विभाग के प्रमुख आनंद शर्मा ने कहा था कि, ये एक अनौपचारिक भोज-बातचीत थी. इसमें देश और दुनिया के हर विषय पर बात हुई. राजनैतिक, आर्थिक विषय, रोजगार-व्यापार आदि से जुड़े विषयों पर बात हुई और विचारों का आदान-प्रदान हुआ.


कांग्रेस का अनौपचारिक भोज, राहुल गांधी ने विदेशी राजनयिकों से मुलाकात की

उन्होंने कहा था कि आतंकवाद पर भी बात हुई. पाकिस्तान कोई विषय नहीं है. आतंकवाद को लेकर राहुल ने जो कहा वो कोई नई बात नहीं है, कांग्रेस पार्टी मजबूत तरीके से आतंकवाद से मुकाबला करती आई है. हम इसे राष्ट्रीय चुनौती समझते हैं. हम किसी भी रूप में आतंकवाद को स्वीकार नहीं करते हैं.

VIDEO : राहुल ने कहा- कहां गायब हो गईं फाइलें

टिप्पणियां

आनंद शर्मा ने कहा था कि प्रधानमंत्री से आग्रह है और सवाल भी कि कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों को अधिकार है सवाल पूछने का. उसे आप राष्ट्र विरोधी न कहें. हमें उनसे किसी सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. हमारे दो प्रधानमंत्री शहीद हो चुके हैं. हमारे कई कार्यकर्ता शहीद हुए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement