युवा 'बेरोजगारी दिवस' मनाने को मजबूर, रोजगार का सम्मान कब देगी सरकार?: राहुल गांधी

एक मीडिया रिपोर्ट में छपी एक खबर के आंकड़ों को लेकर राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि रोजगार लोगों का सम्मान है, आखिर सरकार कब तक रोजगार देने से पीछे हटेगी.

युवा 'बेरोजगारी दिवस' मनाने को मजबूर, रोजगार का सम्मान कब देगी सरकार?: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने बेरोजगारी के मुद्दे पर मोदी सरकार को फिर घेरा. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला
  • बेरोजगारी को लेकर किया ट्वीट
  • कहा- रोजगार देने से कब तक पीछे हटेगी सरकार
नई दिल्ली:

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बेरोजगारी की समस्या (Rahul Gandhi on Unemployment) को लेकर एक बार फिर गुरुवार को मोदी सरकार पर हमला बोला है. एक मीडिया रिपोर्ट में छपी एक खबर के आंकड़ों को लेकर राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि रोजगार लोगों का सम्मान है, आखिर सरकार कब तक रोजगार देने से पीछे हटेगी. उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘यही कारण है कि देश का युवा आज ‘राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस' मनाने पर मजबूर है. रोज़गार सम्मान है. सरकार कब तक ये सम्मान देने से पीछे हटेगी?'

राहुल गांधी ने जिस खबर का हवाला दिया उसके मुताबिक, सरकारी पोर्टल पर नौकरियों के लिए एक करोड़ से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है, लेकिन सिर्फ 1.77 लाख नौकरियां ही उपलब्ध हैं.

d3f3okro

राहुल गांधी कोरोनावायरस, अर्थव्यवस्था सहित रोजगार के मुद्दों को लेकर लगातार हमलावर हैं. राहुल ने कांग्रेस की मुहिम #SpeakUp के तहत #SpeakUpforJobs के शीर्षक से कुछ दिनों पहले ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार की नीतियों के चलते देश में करोड़ों नौकरियां चली गई हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'मोदी सरकार की नीतियों की वजह से देश में करोड़ों नौकरियां खत्म हो गई हैं, वहीं जीडीपी में ऐतिहासिक गिरावट आई है. इसने भारतीय युवाओं का भविष्य कुचलकर रख दिया है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: EPF के पैसे से घर चलाने को मजबूर लोग