NDTV Khabar

राहुल गांधी का अनिल अंबानी पर तंज, राफेल छोड़िये कागज का जहाज भी नहीं बना सकते

राहुल गांधी ( Rahul Gandhi) ने कहा कि मोदी जी अनिल अंबानी को अपने साथ फ्रांस लेकर गए थे. वहां उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति से कहा था कि एचएएल की जगह अनिल अंबानी की कंपनी को ठेका दिया जाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर किया तंज
  2. कहा- देशभक्ति की बात करने वालों ने ही मसूद अजहर को जेल से छोड़ा था
  3. मोदी जी ने पांच साल पहले किए वादे अभी तक पूरे नहीं किए
नई दिल्ली:

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर एक बार फिर हमला किया है. कांग्रेस अध्यक्ष  ने गुजरात के गांधीनगर में एक रैली के दौरान कहा कि पीएम मोदी (PM Modi) ने 2014 चुनाव के समय देश से जितने भी वादे किए थे वह आज तक पूरा नहीं किया जा सका है. उन्होंने इस दौरान राफेल हवाई जहाज सौदे का भी जिक्र किया. राहुल गांधी ने कहा की पीएम मोदी अनिल अंबानी से राफेल जहाज बनवाना चाहते हैं, लेकिन आपको बता दूं कि अगर आज अनिल अंबानी को कागज का जहाज भी बनाने बोल दिया जाए तो वह नहीं बना पाएंगे. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि मोदी जी अनिल अंबानी को अपने साथ फ्रांस लेकर गए थे. वहां उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति से कहा था कि एचएएल की जगह अनिल अंबानी की कंपनी को ठेका दिया जाए.रैली के दौरान राहुल गांधी ने पुलवामा हमले का भी जिक्र किया. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि पुलवामा में जिस मसूद अजहर ने हमारे 40 सीआरपीएफ के जवानों को शहीद किया था उसे छोड़ने वाली बीजेपी सरकार ही है.

गुजरात में कांग्रेस को फिर लगा बड़ा झटका, 4 दिन में तीसरे विधायक ने छोड़ी पार्टी


उन्होंने कहा कि पीएम मोदी (PM Modi) इन दिनों हर मंच से देशभक्ति की बात कर रहे हैं लेकिन मैं आपको बता देना चाहता हूं कि जिस मसूद अजहर ने पुलवामा हमले को अंजाम दिया है. उसे खुद उस समय की बीजेपी की सरकार ने कंधार जाकर छोड़ा था. मसूद अजहर को भारत की जेल से निकालकर एक स्पेशल विमान से कंधार पहुंचाया गया था. उस विमान में आज के एनएसए अजीत डोभाल भी थे. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि देश से सभी को प्यार है लेकिन हमें उन मुद्दों पर भी बात करनी होगी जिसकी वजह से देश में आम जनता को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. 

पीएम मोदी ने ब्लॉग लिखकर बताए कारण-कांग्रेस को क्यों भंग करना चाहते थे गांधी जी?

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी की नीतियों से देश में छोटे उद्योगपति बेरोजागर हो गए. मोदी जी शुरू से कहते रहे हैं कि वह कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. लेकिन आज पांच साल बीतने के बाद भी आपके खातों में 15 लाख रुपये नहीं पहुंचे. नोटबंदी का जिक्र करते हुए राहुल गांधी  (Rahul Gandhi) ने कहा कि पीएम मोदी ने यह फैसला भी आरबीआई से पूछकर नहीं लिया था. नोटबंदी को लेकर मैं पूछना चाहता हूं कि बैंक के सामने खड़ी भीड़ में क्या आपने हिन्दुस्तान के काले धन वालों को खड़ा देखा था. आपने ऐसा नहीं देखा होगा. क्योंकि उस लाइन में सिर्फ आम आदमी और युवा थे. पीएम मोदी पर हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि पीएम इन दिनों जहां भी जाते हैं कुछ न कुछ झूठ बोल जाते हैं.

बदले समीकरणों के बीच BJP ने इस बार 29 दलों से मिलाया हाथ, जीती हुई सीटें भी छोड़ीं

रैली के दौरान राहुल गांधी ने जीएसटी से हो रही दिक्कतों पर भी बात की. उन्होंने कहा कि जीएसटी के नाम पर पांच अलग-अलग टैक्स लगा दिए गए. इससे छोटे कारोबारियों को दिक्कत हुई. राहुल  (Rahul Gandhi) ने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद हमारी सरकार बनते ही हम आपको एक टैक्स वाली जीएसटी देंगे. उन्होंने पीएम पर सच्चे मुद्दे पर बात करने का भी आरोप लगाया. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम यह नहीं बताना चाहते कि बीते पांच सालों में उन्होंने रोजगार के लिए कुछ नहीं किया. वह किसानों को यह याद नहीं दिलाना चाहते हैं कि उन्होंने किसानों की मदद नहीं की, कर्जा माफ नहीं किया. 2014 में पीएम ने कहा था कि प्रधानमंत्री मत बनाओं चौकीदार बनाओ. लेकिन उनके होते हुए ही देश का पैसा लेकर लोग भाग गए. 

गौरतलब है कि राहुल गांधी से पहले  प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi )ने कांग्रेस (Congress) पार्टी ज्वाइन करने के बाद गुजरात केगांधीनगर में पहली बार रैली को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक होना जरूरी है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश में जो कुछ हो रहा है उससे वह दुखी हैं. प्रियंका ने कहा कि मोदी सरकार ने देश में करोड़ों लोगों को नौकरियां देने के अपने वादों को पूरा नहीं किया. लोगों को बांटा जा रहा है, नफरत फैलाई जा रही है और जो सच्चे मुद्दे हैं उनकी बात सरकार नहीं करती. 

प्रियंका ने कहा कि मन में सोचा था कि शायद मुझे भाषण देने की जरूरत न पड़े. तो मैं भाषण नहीं देती आपसे दो शब्द कहती हूं जो मेरे दिल में है. पहली बार मैं गुजरात आई हूं और पहली बार साबरमती के उस आश्रम में गई जहां से महात्मा गांधी जी ने आजादी का संघर्ष शुरू किया था. ऐसा लगा कि आसूं आने वाले हैं, क्योंकि मैंने उन देशभक्तों के बारे में सोचा जिन्होंने जीवन संघर्ष किया, अपनी जान तक दी. जिनके बलिदानों पर इस देश की नींव डली है. वहां बैठे हुए यह बात आई कि यह देश प्रेस सद्भावना और आपसी प्यार के आधार पर बना है.

 उत्तर प्रदेश की इस सीट पर कभी था कांग्रेस का दबदबा, क्या प्रियंका गांधी खत्म करवा पाएंगी 35 सालों का सूखा?

उन्होंने कहा, आज जो कुछ देश में हो रहा है उससे दुख होता है. मैं दिल से कहना चाहती हूं कि इससे बड़ी कोई देशभक्ति नहीं है कि आप जागरूक बनें. आपकी जागरुकता एक हथियार है. यह ऐसा हथियार है, जिससे किसी को दुख नहीं देना है किसी को चोट नहीं पहुंचनी. पर यह आपको मजबूत बनाएगा. उन्होंने कहा कि आपको सोचना है कि यह चुनाव है औऱ अपना भविष्य चुनने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव में फिजूल के मुद्दे नहीं उठने चाहिए. जरूरी मुद्दे किसान, नौकरी, महिला सुरक्षा है. ये चुनावी मुद्दा है. आपकी जागरुकता ही आपको इन परेशानी से छुटकारा दिलाएंगे जो आपके सामने बड़ी- बड़ी बाते करते हैं...वादे करते हैं उनसे पूछिए कि हर साल 2 करोड़ रोजगार देने का जो वादा किया वह कहां है. 

यह भी पढ़ें: क्या प्रियंका गांधी के दम पर कांग्रेस तय कर पाएगी इलाहाबाद से प्रयागराज की दूरी?

प्रियंका ने कहा कि 15 लाख आपके खाते में आने हैं वह कहां है. जिन महिलाओं की सुरक्षा की बातें करते थे उनके बारे में किसने पूछा. आने वाले दो महीने में आपके सामने कई मुद्दे उठाए जाएंगे, लेकिन यह आपकी जागरुकता है कि आपको किन मुद्दों को मानना है समझना है. यहीं से गांधी जी ने प्रेस, अहिंसा की आवाज उठाई थी. मैं सोचती हूं कि हमारी आवाज भी यहीं से उठनी चाहिए. जो अपनी फितरत की बात करते हैं उनसे पूछिए कि देश की फितरत क्या है. इस देश की फितरत है कि नफरत की हवाओं को प्रेम और करुणा में बदल सतके हैं. ये आवाज आप यहां उठाएंगे. आने वाले दिनों में सही निर्णय लीजिए, सही मुद्दे उठाइये. ये देश आपका है और आपने ही इसे बनाया है. यह देश किसानों का है नौजवानों का है.

 

 

टिप्पणियां

 

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement