Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

राहुल का पीएम मोदी पर तंज : प्रधानमंत्री जब भी विदेश दौरे पर जाएं, नीरव को वापस लेते आएं

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खिल्ली उड़ाते हुए मंगलवार को कहा कि इस बार वह जब भी विदेश दौरे पर जाएं, जैसा कि वह अक्सर जाते रहते हैं, स्वदेश लौटते समय भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भी साथ लेते आएं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल का पीएम मोदी पर तंज : प्रधानमंत्री जब भी विदेश दौरे पर जाएं, नीरव को वापस लेते आएं

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फाइल फोटो)

मेंदीपाथर (मेघालय):

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि इस बार वह जब भी विदेश दौरे पर जाएं, जैसा कि वह अक्सर जाते रहते हैं, स्वदेश लौटते समय भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भी साथ लेते आएं. कांग्रेस अध्यक्ष ने 27 फरवरी को मेघालय विधानसभा चुनाव के लिए अपने अभियान के दूसरे चरण के प्रारंभ में कहा, 'मैं सभी की तरफ से इस पीएम मोदी (प्रधानमंत्री) से अनुरोध करना चाहूंगा कि जब वह अपनी किसी विदेश यात्रा पर जाएं तो दूसरे मोदी (नीरव) को भी साथ में लेते आएं. हम अपनी गाढ़ी कमाई को वापस पाकर एक राष्ट्र के रूप में बड़े आभारी होंगे.' राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री और नीरव के बीच एक तुलना भी की.

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी ने किया सवाल- पहले ललित, फिर माल्या, अब नीरव भी हुआ फरार, कहां है देश का चौकीदार?


उन्होंने कहा, 'नीरव मोदी हीरे बेचते हैं, जिसे वह सपने की वस्तु बताते हैं. वास्तव में, इसे कह सकते हैं कि उसने कई लोगों को सपने बेचे, जिसमें सरकार भी शामिल है, जो तब चैन की नींद ले रही थी, जब (नीरव) मोदी जनता की मेहनत की कमाई लेकर भाग गया.' कांग्रेस नेता ने कहा, 'कुछ साल पहले दूसरे (प्रधानमंत्री) मोदी ने भी भारत की जनता को सपने बेचे थे. सपने जो अच्छे दिन के थे, सभी के खाते में 15 लाख रुपये देने के, दो करोड़ नौकरियां देने के, और भी कई सारे सपने.'

यह भी पढ़ें : पीएनबी घोटाला : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने तोड़ी चुप्पी, बैंक प्रबंधन और ऑडिटर्स को ठहराया जिम्मेदार

गांधी ने कहा कि लोगों ने 2014 लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी पर विश्वास जताया था, क्योंकि उन्होंने बड़े-बड़े वादे किए थे और सोचा था कि मोदी उन्हें नौकरियां देंगे. उन्होंने कहा, 'किसानों ने सोचा कि उनकी मेहनत को सम्मान दिया जाएगा और उनके उत्पादन को सही दाम मिलेगा, जनजातियों को लगा कि उन्हें उनकी जमीन का समान हिस्सा मिलेगा और उनकी परंपरा और संस्कृति सुरक्षित रहेगी.'

यह भी पढ़ें : अगर रघुराम राजन के आदेश का पंजाब नेशनल बैंक ने पालन किया होता तो इतना बड़ा घोटाला नहीं होता

राहुल ने कहा, 'लेकिन इस सरकार के कार्यकाल के समाप्त होने के साथ ही यह स्पष्ट हो चुका है कि आशा, सुरक्षा और आर्थिक वृद्धि देने के बजाए उन्होंने हमें केवल निराशा, बेरोजगारी, भय, नफरत और हिंसा ही दी है.' उन्होंने कहा, 'विजय माल्या और नीरव मोदी घोटाले से हमें यह पता चल चुका है कि यह सरकार भ्रष्टाचार को नहीं हटा सकती, बल्कि उसमें सक्रिय भागीदारी भी निभाती है.' 

टिप्पणियां

VIDEO : पीएनबी घोटाले पर बीजेपी और कांग्रेस आमने-सामने

राहुल ने मेघालय के 18.31 लाख मतदाताओं से अपील की कि वे लोकसभा सदस्य कोरनाड संगमा के नेतृत्व वाली नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) को वोट न दें, क्योंकि एनपीपी भाजपा की बी-टीम के रूप में काम कर रही है. उन्होंने कहा, 'एनपीपी के जाल में नहीं फंसे.' राहुल ने ध्यान दिलाया कि मणिपुर में कैसे एनपीपी ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Delhi Violence: दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर रजनीकांत ने केंद्र सरकार की आलोचना की, कहा- निश्चित तौर पर यह...'

Advertisement