NDTV Khabar

'गब्बर सिंह टैक्स' के बाद GDP को राहुल ने दिया यह नाम, पीएम मोदी और अरुण जेटली पर कसा तंज

राहुल ने ट्वीट के जरिये तंज कसते हुए कहा है कि जेटली की प्रतिभा के साथ मोदी की 'सकल विभाजनकारी राजनीति' (जीडीपी) देश को कहां ले जा रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'गब्बर सिंह टैक्स' के बाद GDP को राहुल ने दिया यह नाम, पीएम मोदी और अरुण जेटली पर कसा तंज

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जीडीपी के मुद्दे पर सरकार को घेरा. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. राहुल गांधी ने पीएम मोदी और अरुण जेटली पर साधा निशाना
  2. राहुल ने कहा, 'जीडीपी' यानी मोदी की 'सकल विभाजनकारी राजनीति'
  3. ट्वीट कर कहा, नया निवेश पिछले 13 वर्षों में सबसे निचले स्तर पर है
नई दिल्ली: जीडीपी को लेकर नए अनुमान के बहाने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम मोदी और अरुण जेटली पर निशाना साधा है. राहुल ने ट्वीट के जरिये तंज कसते हुए कहा है कि जेटली की प्रतिभा के साथ मोदी की 'सकल विभाजनकारी राजनीति' (जीडीपी) देश को कहां ले जा रही है. राहुल ने एक ट्वीट कर जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) को एक नया नाम दिया.

यह भी पढ़ें : सरकार ने जारी किया आंकड़ा, 2017-18 में जीडीपी ग्रोथ घटकर 6.5 फीसदी रहने की उम्मीद
  उन्होंने एक ट्वीट में आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि देश में नया निवेश पिछले 13 वर्षों में सबसे निचले स्तर पर है. साथ ही बैंक के ऋण कारोबार में वृद्धि 63 वर्षों में निम्नतम स्तर पर है. उन्होंने कहा कि नौकरियों के मौके पिछले आठ सालों में सबसे कम हैं, सकल मूल्य वर्धन के आधार कृषि उत्पादन में वृद्धि की दर 1.7 फीसदी तक कम हुई और राजकोषीय घाटा पिछले आठ सालों में सबसे ज्यादा बढ़ा है. साथ ही परियोजनाएं भी बीच में लटकी हुई हैं.

यह भी पढ़ें :  राहुल गांधी का पीएम मोदी पर निशाना, पूछा- 'बीत गए चार साल, कब आएगा लोकपाल ?

कांग्रेस नेता ने अपने ट्वीट के साथ एक खबर भी पोस्ट की है. जिसमें कहा गया है कि देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष (2017-18) में 6.5 प्रतिशत के चार साल के निचले स्तर पर रहने का अनुमान है. माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के क्रियान्वयन की वजह से विनिर्माण क्षेत्र पर पड़े असर और कृषि उत्पादन कमजोर रहने से जीडीपी की वृद्धि दर चार साल के निचले स्तर पर रह सकती है. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने राष्ट्रीय लेखा खातों का अग्रिम अनुमान जारी करते हुए यह कहा है.

टिप्पणियां
VIDEO : इस साल जीडीपी घटने का अनुमान


पिछले वित्त वर्ष 2016-17 में जीडीपी की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही थी, जबकि इससे पिछले साल यह 8 प्रतिशत के ऊंचे स्तर पर थी. वर्ष 2014-15 में यह 7.5 प्रतिशत थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement