NDTV Khabar

जेट एयरवेज के संस्थापक के घर पर हुई छापेमारी में मिली 19 कंपनियों की जानकारी, विदेश में हैं 5 कंपनियां: ED

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल के आवास की तलाशी ली थी, जिसमें उनकी 19 कंपनियों के विवरण मिले हैं, जिसमें से 5 कंपनियां विदेश में हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जेट एयरवेज के संस्थापक के घर पर हुई छापेमारी में मिली 19 कंपनियों की जानकारी, विदेश में हैं 5 कंपनियां: ED

जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल

खास बातें

  1. ईडी ने जेट एयरवेज के संस्थापक के आवास की ली तलाशी
  2. नरेश गोयल की 19 कंपनियों के मिले विवरण
  3. नरेश गोयल की 5 कंपनियां विदेश में हैं
नई दिल्ली:

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल (Naresh Goyal) के आवास की तलाशी ली थी, जिसमें उनकी 19 कंपनियों के विवरण मिले हैं, जिसमें से 5 कंपनियां विदेश में हैं. इससे यह भी पता चला है कि संदिग्ध लेनदेन के जरिए धन को विदेश भेजकर गबन किया गया. ईडी ने दिल्ली और मुंबई में 12 स्थानों पर तलाशी ली थी, जिसमें जेट अधिकारियों के परिसर भी शामिल थे. एक वरिष्ठ ईडी अधिकारी ने बताया कि गोयल और उनके लंबे समय से सहयोगी हसमुख गार्दी के घरों पर छापेमारी की गई.  

जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल के दिल्ली और मुंबई स्थित ठिकानों पर ED ने की छापेमारी

अधिकारियों ने बताया कि तलाशी के दौरान विदेशी कंपनियों को किए गए भुगतान के दस्तावेजों और डिजिटल साक्ष्यों को कब्जे में लिया गया. अधिकारी ने बताया कि एजेंसी जेट एयरवेज और गोयल के खिलाफ विभिन्न सूत्रों से प्राप्त शिकायत के आधार पर फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (फेमा) के कथित उल्लंघन की जांच कर रही है.


उन्होंने कहा कि इस साल मार्च में एयरलाइन के अध्यक्ष का पद छोड़ने वाले गोयल की 19 निजी कंपनियां है, जिसमें से 14 भारत में और 5 विदेश में पंजीकृत हैं. अधिकारी ने कहा कि गोयल अप्रत्यक्ष रूप से विदेश में विभिन्न कंपनियों पर नियंत्रण रखते थे, जिसमें से कुछ टैक्स हैवन देशों में हैं.

सरकार ने जेट एयरवेज में पैसे की हेराफेरी के मामले में जांच का आदेश दिया : सूत्र

उन्होंने कहा, "प्राथमिक जांच से पता चलता है कि गोयल ने कर बचाने के लिए घरेलू और विदेशी कंपनियों के बीच कई संदिग्ध लेन-देन किए और धन को देश से बाहर भेज दिया." उन्होंने कहा, "दुबई में खुद की कंपनी को जेट एयरलाइन के सेल एजेंट बना कर भारी मात्रा में धन भेजा गया, जिसे उसकी सेवाओं की एवज में भारीभरकम रकम का भुगतान किया गया."

टिप्पणियां

अधिकारी ने बताया कि जांच से संकेत मिलता है कि गोयल ने अपने विदेश स्थित बैंक खातों में भारी मात्रा में धन भेजे, जो फेमा का उल्लंघन है.

वीडियो- मुश्किल में जेट एयरवेज कर्मचारी, दिल्ली में किया प्रदर्शन​



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement