NDTV Khabar

लोहानी ने ‘मानसिकता’बदलने की जरूरत पर जोर दिया

लोहानी ने एक कार्यशाला के दौरान कहा कि हमने 1853 में सबसे पहली ट्रेन का संचालन किया और अगले 25 साल में 1878 तक रेल नेटवर्क से सभी बड़े शहर मुंबई, दिल्ली, कोलकाता और मद्रास जुड़ गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोहानी ने ‘मानसिकता’बदलने की जरूरत पर जोर दिया

भारतीय रेल की फाइल फोटो

नई दिल्ली: रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी ने कहा कि रेलवे के पास आवागमन का किफायती, सुगम और सुरक्षित जरिया प्रदान करने की क्षमता है लेकिन उसे पूर्ण संभावना की पहचान के लिए‘मानसिकता बदलने’ की जरूरत है . लोहानी ने एक कार्यशाला के दौरान कहा कि हमने 1853 में सबसे पहली ट्रेन का संचालन किया और अगले 25 साल में 1878 तक रेल नेटवर्क से सभी बड़े शहर मुंबई, दिल्ली, कोलकाता और मद्रास जुड़ गए.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: अगले महीने हो सकते हैं RRB ALP, Technician पदों के लिए एग्‍जाम

उन्होंने कहा कि आजादी के समय तक हमारे पास 54000 किलोमीटर का नेटवर्क था जबकि उस वक्त हमारे पास बहुत ज्यादा संसाधन अैर प्रौद्योगिकी नहीं थे और इसके बाद पिछले 70 साल में हम महज 12000 किलोमीटर रेल नेटवर्क ही जोड़ पाए. (इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement