NDTV Khabar

जनरल टिकट खरीदना हुआ आसान, रेलवे के इस नए मोबाइल एप से मिलेगी यह सुविधा 

रेलवे के अनुसार पंजीकरण कराने के लिए यात्रियों को सबसे पहले अपना मोबाइल नंबर, नाम, शहर, रेल की डिफ़ॉल्ट बुकिंग, श्रेणी, टिकट का प्रकार, यात्रियों की संख्या और बार-बार यात्रा करने के मार्गों का विवरण देना होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जनरल टिकट खरीदना हुआ आसान, रेलवे के इस नए मोबाइल एप से मिलेगी यह सुविधा 

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. प्ले स्टोर पर उपलब्ध है रेलवे की नई एप
  2. जनरल टिकट लेने और उसे रद्द कराने में मिलेगी मदद
  3. इससे पहले भी कई एप लांच कर चुका है रेलवे
नई दिल्ली: रेलवे ने अनारक्षित टिकटों की बुकिंग और इन्हें रद्द करने सहित अन्य सुविधाओं के साथ एक विशेष मोबाइल एप शुरू किया है. इस एप में सावधिक (सीजन) और प्लेटफॉर्म टिकटों के नवीनीकरण, आर-वॉलेट की बकाया राशि की जांच और लोड करने व यूजर प्रोफाइल मैनेजमेंट और बुकिंग हिस्ट्री की भी सुविधा होगी. रेल मंत्रालय ने इसे लेकर एक बयान जारी किया है. इसमें कहा गया है कि रेल सूचना प्रणाली केंद्र (सीआरआईएस) ने मोबाइल आधारित एप्लिकेशन 'अटसनमोबाइल' विकसित किया है. यूजर इस एप को गूगल प्‍ले स्‍टोर या विन्‍डोज स्‍टोर से निःशुल्क डाउनलोड कर सकते हैं. साथ ही पंजीकरण कराने के तरीके के बारे में भी बताया गया है.

यह भी पढ़ें: अगर आपको रेलवे से कोई शिकायत है, तो 'मदद' एप्प बनेगा मददगार

रेलवे के अनुसार पंजीकरण कराने के लिए यात्रियों को सबसे पहले अपना मोबाइल नंबर, नाम, शहर, रेल की डिफ़ॉल्ट बुकिंग, श्रेणी, टिकट का प्रकार, यात्रियों की संख्या और बार-बार यात्रा करने के मार्गों का विवरण देना होगा. पंजीकरण कराने पर यात्री का जीरो बैलेंस का रेल वॉलेट (आर-वॉलेट) अकाउंट खुद-ब-खुद खुल जाएगा. खास बात यह है कि आर-वॉलेट बनाने के लिए कोई अतिरिक्त शुल्‍क नहीं देना होगा. रेलवे ने बताया है कि आर-वॉलेट को किसी भी यूटीएस काउंटर पर या वेबसाइट पर उपलब्ध विकल्प के माध्यम से रीचार्ज किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: रेल सफर को आसान करने के लिए जल्द ही आपके मोबाइल पर आएगा रेलवे ऐप

हालांकि इसमें अग्रिम टिकट बुकिंग की अनुमति नहीं है यानी, हमेशा वर्तमान तिथि में ही यात्रा की जाएगी. बयान के मुताबिक यात्री टिकट का प्रिंट लिए बगैर भी यात्रा कर सकते हैं. टिकट जांच कर्मी द्वारा टिकट मांगने पर यात्री एप में 'टिकट दिखाएं' विकल्प का उपयोग कर टिकट दिखायेंगे. गौरतलब है कि रेलवे ने इससे पहले कुछ और एप भी लांच किया था. इसमें रेल में भोजन और खाद्य पदार्थ की जानकारी के लिए एक नया एप लांच किया था. मंत्रालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, यह मोबाइल ऐप सभी प्रकार की रेलगाड़ियों पर परोसे जाने वाले मेन्यू (व्यंजन-सूची) के बारे में व्यापक जानकारी देता है.

यह भी पढ़ें: रेल सफर को आसान करने के लिए जल्द ही आपके मोबाइल पर आएगा रेलवे ऐप

मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए खाद्य पदार्थो को चार श्रेणियों में कवर किया जाता है -पेय पदार्थ, नाश्ता, भोजन और कोई विशिष्ट खाद्य पदार्थ (ए-ला-कार्टे). बयान के अनुसार, चाय, कॉफी, बोतलबंद पेयजल, जनता खाना, मानक शाकाहारी भोजन (थाली), मानक मांसाहारी भोजन (थाली), मानक शाकाहारी भोजन (पुलाव या कैसरोल)

टिप्पणियां
VIDEO: रेलवे ने लांच किया मोबाइल एप.


और मानक मांसाहारी भोजन (पुलाव या कैसरोल) जैसे मानक खाद्य पदार्थो हेतु दरों का उल्लेख ट्रेन और स्टेशन दोनों के लिए ही किया जाता है. (खाद्य प्लाजा और फास्ट फूड इकाइयों को छोड़ कर). (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement