Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पिछले वित्त वर्ष में रेलवे के यात्री किराया राजस्व में वृद्धि, यात्रियों की संख्या भी बढ़ी

रेलवे ने 2017-2018 के दौरान यात्री किराये से 50,000 करोड़ रुपये की कमाई की जो 2016-2017 की ऐसी कमाईसे 2551 करोड़ रुपये अधिक है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पिछले वित्त वर्ष में रेलवे के यात्री किराया राजस्व में वृद्धि, यात्रियों की संख्या भी बढ़ी

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

रेलवे ने पिछले वित्त वर्ष में अपने किराये में वृद्धि किये बिना और एयरलाइनों के प्रतिस्पर्धीऑफरों के बावजूद टिकट बिक्री से राजस्व में अच्छी खासी वृद्धि दर्ज की. रेलवे ने 2017-2018 के दौरान यात्री किराये से 50,000 करोड़ रुपये की कमाई की जो2016-2017 की ऐसी कमाई से 2551 करोड़ रुपये अधिक है. रेल यात्रियों की संख्या में भी वृद्धि हुई है. उपनगरीय रेलवे टिकट बिक्री में दो फीसद तथा पीआरएस के माध्यम से बुकिंग में 6.3 फीसद की बढ़ोत्तरी हुई. सरकारी आंकड़े के अनुसार ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों की संख्या 2016-2017 के 821. 938 करोड़ से बढ़कर 2017-2018 में 826.732 करोड़ हो गयी.

यह भी पढ़ें : मुंबई: कांदिवली रेलवे स्टेशन के यात्रियों को स्कूली बच्चे कुछ इस तरह करते हैं परेशान


अधिकारियों ने बताया कि एयरलाइनों के किराये में उतार चढ़ाव और प्रीमियम ट्रेनों में फ्लैक्सी फेयर प्रणाली के कारण रेल यात्रियों में कमी की आशंका प्रकट की गयी थी, उसके बावजूद यह वृद्धि दर्ज की गयी. ऐसे में इन बातों से रेलवे पर कोई फर्क नहीं पड़ा है.

टिप्पणियां

VIDEO : रेलवे में हर पद के लिए 200 उम्मीदवार​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अभिनेता-नेता तापस पॉल के निधन के लिए ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को ठहराया जिम्मेदार, कहा- केंद्र की वजह से तीन मौत देख चुकी हूं

Advertisement