NDTV Khabar

मुंबई उपनगरीय रेलवे के पुनर्गठन पर 65,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी सरकार : रेल मंत्री

मुंबई और इसके आसपास के इलाकों में उपनगरीय रेलवे नेटवर्क से जुड़ी कई ढांचागत परियोजनाओं पर सरकार 65,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई उपनगरीय रेलवे के पुनर्गठन पर 65,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी सरकार : रेल मंत्री

रेल मंत्री पीयूष गोयल (फाइल फोटो).

मुंबई:

मुंबई और इसके आसपास के इलाकों में उपनगरीय रेलवे नेटवर्क से जुड़ी कई ढांचागत परियोजनाओं पर सरकार 65,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं में निवेश का प्रस्ताव इस साल के केंद्रीय बजट में किया गया है. इन परियोजनाओं में नया कार्य और मौजूदा सुविधाओं का उन्नयन शामिल है. गोयल ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार इन ढांचागत परियोजनाओं को पूरा समर्थन दे रही है. इनसे परिवहन और यात्रियों के लिए सुविधाओं में सुधार किया जा सकता है. गोयल ने कहा, ‘‘दूरदृष्टि वाले हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के सक्रिय सहयोग से पिछले बजट में 60,000 से 65,000 करोड़ रुपये के निवेश की का निर्णय लिया गया था.'' 

रेल मंत्री पीयूष गोयल को भी नहीं मिला टिकट, एयरपोर्ट पर बैठे रहे 12 घंटे, हादसे के 2 दिन बाद लौटे स्वदेश


टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि इससे मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में उपनगरीय रेलवे प्रणाली का उन्नयन किया जा सकेगा. नवी मुंबई में न्यू नेरुल-सीवुड्स दरावे-बेलापुर-खारकोपर उपनगरीय रेल गलियारे को शुरू किए जाने के मौके पर गोयल ने कहा, ‘‘रेलवे द्वारा जिस रफ्तार से ढांचागत और सार्वजनिक सुविधाओं के कार्य को आगे बढ़ाया जा रहा है, मेरा मानना है कि अगले चार से साढ़े चार साल में मुंबई, नवी मुंबई के उपनगरीय रेल नेटवर्क का पूरी तरह कायापलट हो सकेगा.'' मध्य रेलवे के हार्बर मार्ग पर 27 किलोमीटर के नेरूल- बेलापुर- ऊरन गलियारे का यह पहला चरण है जो नवी मुंबई में पूरा हुआ है. इस मौके पर गोयल के साथ मुख्यमंत्री फडणवीस भी उपस्थित थे. 

VIDEO: नेत्रहीनों को राहत पहुंचाता स्टेशन
गलियारे में नियमित रेल सेवायें सोमवार से शुरू होंगी. गोयल ने इस मौके पर उपस्थित जनसमुदाय को संबोधित करते हुये कहा कि मुख्यमंत्री फडणवीस ने महाराष्ट्र को 2025 तक एक हजार अरब डालर की अर्थव्यवसथा बनाने का लक्ष्य तय किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement