NDTV Khabar

रेलवे ग्रुप डी परीक्षा के लिए आवेदनों को गलत तरीके से अस्वीकार किया गया, उम्मीदवारों को मिल सकता है दूसरा मौका

रेलवे ग्रुप डी परीक्षा के लिए जिन उम्मीदवारों के आवेदन अस्वीकार किए गए हैं, उन्हें दूसरा मौका मिल सकता है. यह जानकारी अधिकारियों के हवाले से मिली है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेलवे ग्रुप डी परीक्षा के लिए आवेदनों को गलत तरीके से अस्वीकार किया गया, उम्मीदवारों को मिल सकता है दूसरा मौका

उम्मीदवारों को मिल सकता है दूसरा मौका

खास बातें

  1. ग्रुप डी के लाखों उम्मीदवारों के एप्लीकेशन रिजेक्ट हुए
  2. आवेदनों को गलत तरीके से अस्वीकार किया गया
  3. उम्मीदवारों को मिल सकता है दूसरा मौका
नई दिल्ली:

रेलवे ग्रुप डी (RRC, RRB Group D) परीक्षा के लिए जिन उम्मीदवारों के आवेदन अस्वीकार किए गए हैं, उन्हें दूसरा मौका मिल सकता है. यह जानकारी अधिकारियों के हवाले से मिली है. रेलवे ने 25 जुलाई से अपनी वेबसाइट पर परीक्षा के लिए आवेदनों की स्थिति प्रदर्शित करना शुरू किया और वह 31 जुलाई तक ऐसा करेगा. इससे उम्मीदवार यह पता कर सकते हैं कि उनका आवेदन स्वीकार किया गया है या अस्वीकार किया गया है. देशभर में कई उम्मीदवारों ने अमान्य फोटो की गलती का हवाला देते हुए शिकायत की थी कि निर्देशों को पूरा करने के बावजूद, उनके आवेदन अस्वीकार कर दिए गए. 

RRB NTPC Exam: कब होगी एनटीपीसी परीक्षा? जानिए रेलवे के अधिकारी ने क्या कहा

यूपी के गोरखपुर से आवेदन करने वाले संजय कुमार ने कहा, 'मेरे आवेदन को अस्वीकार कर दिया गया जबकि वह निर्देशों के अनुसार पूरी तरह से सही साइज में था. यह गलत होगा, अगर मेरे जैसे आवेदक इस गलती की वजह से परीक्षा में बैठने का मौका गंवा दें.' एक रेलवे अधिकारी ने कहा, 'जिन आवेदकों का दावा सही है उन्हें दूसरा मौका दिया जाएगा. प्रत्येक शिकायत की जांच की जाएगी.' 


टिप्पणियां

उन्होंने कहा, 'हमें 'अमान्य फोटो' का हवाला देते हुए आवेदनों से शिकायत मिली है. हमने अपनी वेबसाइट पर जानकारी के माध्यम से सभी आवेदकों को स्पष्ट कर दिया है कि उनके पास इस मुद्दे के बारे में हमें सूचित करने और अपना पक्ष रखने के लिए 31 जुलाई तक का समय है. हम प्रत्येक शिकायत की छानबीन करेंगे और अगर ऐसे मामले हैं जहां वैध फोटो के बावजूद आवेदन खारिज कर दिए गए हैं तो हम उन मामलों पर विचार करेंगे.'

RRC Group D: उम्मीदवारों के एप्लीकेशन रिजेक्ट होने पर रेलवे के अधिकारी ने कही यह बात
 
इस मुद्दे पर पिछले साल भी चर्चा हुई थी, जिसमें 48 लाख आवेदकों में से 70,000 को अपनी तस्वीरों को फिर से अपलोड करने का दूसरा मौका दिया गया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement