NDTV Khabar

रेलवे अपने अस्पतालों में भी सीसीटीवी कैमरे और वाईफाई लगाएगा

रेलवे स्टेशनों और डिब्बों के अलावा रेलवे अस्पतालों में भी स्वच्छता और सुरक्षा की निगरानी सीसीटीवी कैमरों के जरिए की जाएगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेलवे अपने अस्पतालों में भी सीसीटीवी कैमरे और वाईफाई लगाएगा

रेल मंत्री पियूष गोयल (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. रेल मंत्री गोयल ने उत्तरी रेलवे सेंट्रल अस्पताल का दौरा किया
  2. रेलवे की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली की विस्तृत समीक्षा की
  3. देश में रेलवे के कुल 125 अस्पताल
नई दिल्ली: रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि न सिर्फ रेलवे स्टेशनों और डिब्बों बल्कि रेलवे अस्पतालों में भी स्वच्छता और सुरक्षा की निगरानी सीसीटीवी कैमरों के जरिए की जाएगी. साथ ही रोगियों की बेहतर देखभाल के लिए अस्पताल परिसरों में वाईफाई सुविधा मुहैया करायी जाएगी.

डिवीजनल और जोनल रेलवे अस्पतालों को प्राथमिकता के आधार पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए इस साल के अंत तक का समय दिया गया है. गोयल ने सोमवार को उत्तरी रेलवे सेंट्रल अस्पताल का दौरा किया. इससे पहले उन्होंने 29 अगस्त को रेलवे की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली की विस्तृत समीक्षा की थी.

रेलवे बोर्ड ने 14 सितंबर को सभी जोनों के महाप्रबंधकों को भेजे निर्देशों में यह सुनिश्चित करने को कहा है कि ये प्रणालियां लागू हों. देश में रेलवे के कुल 125 अस्पताल हैं. बोर्ड ने कहा है कि डॉक्टरों और मरीजों को चिकित्सा रिकॉर्ड का आदान-प्रदान करने, संपर्क में आसानी, टेली-वीडियो चैट, रोगियों की बेहतर देखभाल के लिए अन्य केंद्रों में विशेषज्ञों के साथ कांफ्रेंस के लिए वाईफ़ाई कनेक्शन दिया जाएगा. रेलवे जोनों और डिवीजनों को काम पूरा करने के लिए 31 दिसंबर तक का समय दिया गया है.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : दिल्ली में क्रॉसिंग गेट न खोलने पर तैनात रेलवे कर्मचारी के हाथ-पैर काट दिए, पीयूष गोयल ने अस्पताल पहुंचकर जाना हाल

गोयल के रेल मंत्री का पदभार संभालने के बाद से ही रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने और वाईफाई कनेक्शन उपलब्ध कराने पर जोर दिया गया है.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement