'वो मेरा भाई है, उससे रिश्ता नहीं तोड़ सकते, भले ही...', पढ़ें- उद्धव ने राज ठाकरे को लेकर क्या कहा था

एनडीटीवी को दिये इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे कहते हैं, 'मैं राज ठाकरे को अपना प्रतिद्वंदी नहीं मानता हूं. मेरे पिताजी ने मुझे सिखाया है कि मेरा, तेरा, अपना-पराया कोई नहीं है.'

खास बातें

  • उद्धव के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे राज ठाकरे
  • उद्धव ठाकरे ने खुद किया राज ठाकरे को फोन
  • दोनों भाईयों के रिश्ते में लंबे समय से जमी है बर्फ
नई दिल्ली :

महाराष्ट्र की सियासत में आज एक नया अध्याय लिखा जाने वाला है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भव्य समारोह में राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. खबर है कि शपथ ग्रहण समारोह में एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) को भी आमंत्रित किया गया है. उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने खुद राज ठाकरे को फोन किया है. ऐसे में दोनों भाईयों के रिश्ते में लंबे समय से जमी बर्फ पिघलती दिख रही है. हालांकि इसकी कवायद पहले भी होती रही है. एनडीटीवी को साल 2007 में दिए एक इंटरव्यू में जब उद्धव ठाकरे से पूछा गया कि राज परिवार के सदस्य थे, उन्हें क्यों मनाया नहीं जा? क्या उन्हें रोका नहीं जा सकता था? इसपर उद्धव ठाकरे कहते हैं कि अगर मैं इसपर बात करूं तो पूरा इंटरव्यू इसी पर जाएगा. इस सवाल पर कि, 'अगर आप अभी भी फोन उठाकर राज ठाकरे को कह सकें कि जो भी हुआ वह भूल जाओ...आप वापस आ जाओ...क्या ये अभी मुमकिन है? इसके जवाब में उद्धव ठाकरे कहते हैं, ''आपको क्या लगता है...ये सब बातें नहीं हुई होंगी? इसीलिये मैं इस विषय पर नहीं आना चाहता हूं'.  

उद्धव ठाकरे की शपथ से पहले संजय राउत ने पूछा- How's The Josh?

एनडीटीवी को दिये इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे कहते हैं, 'मैं राज ठाकरे को अपना प्रतिद्वंदी नहीं मानता हूं. मेरे पिताजी ने मुझे सिखाया है कि मेरा, तेरा, अपना-पराया कोई नहीं है.' इस सवाल पर कि जब राज ठाकरे और नारायण राणे पार्टी से अलग हुए तो दोनों में से किसके जाने पर ज्यादा बुरा लगा? उद्धव ठाकरे कहते हैं कि 'दोनों मेरे करीबी थे. राज मेरा भाई है. उसके साथ रिश्ते नहीं तोड़ सकते हैं, भले उन्होंने तोड़ा है. वह जो बात कर रहे हैं, करने दो. दोनों ने अपना-अपना रास्ता चुना है. मुझे मेरे पिता ने जो रास्ता दिखाया है, उसपर चल रहा हूं, उसमें क्या गलत बात है? क्या अपने माता-पिता के साथ निष्ठा के साथ रहना अपराध है? शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' के जरिये राज ठाकरे पर निशाना साधने के सवाल पर उद्धव कहते हैं कि, ''ऐसा नहीं है कि हमेशा निशाना साधा जाता है. चाहे राज ठाकरे हों या कोई और, जब वह शिवसेना पर ऊंगली उठाते हैं तो सामना के जरिये इसका जवाब दिया जाता है'. 

Video: महाराष्ट्र में मोदी-शाह की साजिश नाकाम: सोनिया गांधी

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com