राज ठाकरे ने अपने बेटे अमित को भी राजनीति में उतारा, पार्टी के झंडे को भगवा रंग में रंगा

पार्टी में शामिल होने के बाद NDTV से बात करते हुए अमित ठाकरे ने कहा है कि उन्हें कल (बुधवार) को ही बताया गया था कि उन्हें एक प्रस्ताव रखना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह इस फैसले से खुश है. 

खास बातें

  • महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने बदला अपना चरित्र-चेहरा
  • पार्टी ने अपने पहले अधिवेश में लॉन्च किया नया झंडा
  • राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे ने भी रखा राजनीति में कदम
मुंबई:

महाराष्ट्र की राजनीति में खुद को प्रासंगिक बनाए रखने के लिए राज ठाकरे (Raj Thackeray) के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) ने गुरुवार को मुंबई में अपना पहला अधिवेशन बुलाया है. इस अधिवेशन में पार्टी ने अपना नया झंडा लॉन्च किया है. बता दें, यह वही झंडा है जो पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. इसके साथ ही MNS प्रमुख राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे (Amit Thackeray) ने भी औपचारिक तौर पर पार्टी जॉइन कर ली है. पार्टी में शामिल होने के बाद NDTV से बात करते हुए अमित ठाकरे ने कहा है कि उन्हें कल (बुधवार) को ही बताया गया था कि उन्हें एक प्रस्ताव रखना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह इस फैसले से खुश है. 

MNS के नए झंडे को पूरी तरह भगवा रंग में रंग दिया गया है. इससे पहले इसमें पांच रंग थे. पार्टी की ओर से जारी किए गए झंडे में शिवाजी महाराज के शासनकाल की मुद्रा प्रिंट है. झंडे पर संस्कृत में श्लोक लिखा गया है- 'प्रतिपच्चन्द्रलेखेव वर्धिष्णुर्विश्ववन्दिता, शाहसूनो: शिवस्यैषा मुद्रा भद्राय राजते.' पार्टी चरित्र-चित्रण में हुए बदलाव पर राज ठाकरे की पत्नी शर्मिला ठाकरे ने कहा है कि ऐसा नहीं है कि झंडे में भगवा रंग नया है. पहले भी इसमें भगवा रंग था. वहीं पार्टी की बीजेपी से नजदीकी पर उन्होंने कहा है कि साहब (राज ठाकरे) ऐसे नहीं है कि कोई उन्हें अपने लिए इस्तेमाल कर सके. 

राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने लॉन्च किया पार्टी का नया झंडा, जानिए क्या है मतलब

बता दें, झंडे को लॉन्च करने से पहले राज ठाकरे ने अपने चाचा बाला साहब ठाकरे को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. गौरतलब है कि आज बाल ठाकरे की 94वीं जयंती है. हाल में हुई महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में एमएनएस ने 101 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे, लेकिन उन्हें केवल एक सीट पर जीत मिली थी. वहीं राज्य में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी शिवसेना ने भाजपा का साथ छोड़कर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के साथ मिलकर गठबंधन सरकार बना ली.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: महाराष्ट्र: राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे 'मनसे' में हुए शामिल