अजमेर: मिड-डे मिल खाने से 17 बच्चों की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में चल रहा इलाज

सीएमएचओ ने कहा, बच्चों को अस्पताल पहुंचा दिया गया है और अब उनकी हालत स्थिर है.

अजमेर: मिड-डे मिल खाने से 17 बच्चों की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में चल रहा इलाज

मिड-डे मिल खाने से बच्चों की तबीयत बिगड़ी (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

खास बातें

  • मिड-डे मिल खाने से बच्चों की तबीयत बिगड़ी
  • मिड डे मिल खाने के बाद बच्चों को उल्टी दस्त
  • मामले की जांच-पड़ताल जारी
अजमेर:

राजस्थान के अजमेर के अर्जुनपुरा के सरकारी स्कूल में मिड-डे मिल (पोषाहार) खाने के बाद 17 बच्चों की तबीयत बिगड़ गई. बच्चों को इलाज के लिए अजमेर के जेएलएन अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. बच्चों को फूड प्वाइंजनिंग होने की खबर लगने के बाद अस्पताल प्रशासन तुरंत हरकत में आया और उनका इलाज शुरू किया गया. मिड-डे मिल खाने के बाद बच्चों को उल्टी-दस्त होने लगे थे. बच्चों को अस्पताल में भर्ती करके प्राथमिक उपचार दिया गया है. डॉक्टरों का कहना है कि सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं. इस मामले में सरपंच ने स्कूल पर बच्चों को गलत पोषाहार खिलाने का आरोप लगाते हुए उचित कार्रवाई की मांग की है.

मिड-डे मील वीडियो मामले में गिरफ्तार पत्रकार को मिली क्लीन चीट

अर्जुनपुरा सरपंच शक्ति सिंह रावत ने बताया कि बच्चों की तबीयत स्कूल में बिगड़ी थी लेकिन प्राचार्य मौके पर मौजूद नहीं थे. बच्चों को किस तरह का खाना दिया गया इसकी जांच होनी चाहिए. इस मामले में जो भी दोषी हो उन पर ठोस कार्रवाई होनी चाहिए. इस मामले में जिला प्रशासन के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग को भी शिकायत दी गई है. 

दिल्ली के नरेला में सरकारी स्कूल में मिड डे मील खाने से 26 बच्चे बीमार पड़े

इस मामले में सीएमएचओ  के के सैनी ने कहा, "बच्चों को अस्पताल पहुंचा दिया गया है और अब उनकी हालत स्थिर है. खाद्य सुरक्षा अधिकारी को खाने का सैंपल लेने के लिए भेजा गया था. हम इस मामले की जांच-पड़ताल कर रहे हैं. 

वीडियो: मिड डे मिल में बच्चों को खिलाया जा रहा नमक रोटी

   

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com