राजस्थान : अशोक गहलोत ने पूछा, अगर राज्यसभा में मर्जर सही, फिर यहां गलत कैसे...?

राजस्थान (Rajasthan) में जारी सियासी घसामान के बीच सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) बीजेपी (BJP) के खिलाफ लगातार आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

राजस्थान : अशोक गहलोत ने पूछा, अगर राज्यसभा में मर्जर सही, फिर यहां गलत कैसे...?

BJP का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया: अशोक गहलोत

नई दिल्ली:

राजस्थान (Rajasthan) में जारी सियासी घसामान के बीच सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) बीजेपी (BJP) के खिलाफ लगातार आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए दिखाई दे रहे हैं. शुक्रवार को सीएम गहलोत ने एक बार फिर बीजेपी को सवालों के घेरे में खड़ा किया. अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए बीएसपी मसले पर आवाज उठाते हुए उन्होंने कहा कि BJP ने TDP के 4 MPs को राज्यसभा के अंदर रातों रात मर्जर करवा दिया, वो मर्जर तो सही है और राजस्थान में 6 विधायक मर्जर कर गए कांग्रेस में वो मर्जर गलत है. उन्होंने कहा कि तो फिर BJP का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया, मैं पूछना चाहता हूं? राज्यसभा में मर्जर हो वो सही है और यहां मर्जर हो वो गलत है?  

'हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए' वाला बयान देकर अब अपने MLAs को जैसलमेर में ठहराएंगे CM अशोक गहलोत

उन्होंने आगे लिखा कि बहनजी को BJP ने आगे कर रखा है और उन्हीं के इशारे पर वो बयानबाजी कर रही हैं. BJP जिस प्रकार से CBI, ED, IT का दुरुपयोग कर रही है, सबको ही डरा रही है, धमका रही है, राजस्थान में क्या हो रहा है, सबको मालूम है, ऐसा तमाशा कभी देखा नहीं. वे उनसे डर रही हैं और मजबूरी में बयान दे रही हैं. 

राजस्‍थान: CM गहलोत ने कसा तंज, 'विधानसभा सत्र की तारीख तय होते ही हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ने लगे'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इससे पहले वह इस मामले को लेकर बीएसपी सुप्रीमों मायावती पर गुरुवार को भी निशाना साध चुके हैं. गुरुवार को उन्होंने कहा कि   बसपा के 6 विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर मायावती BJP के इशारे पर बयानबाजी कर रही हैं. उन्होंने कहा कि दो तिहाई बहुमत से कोई पार्टी टूट सकती है, अलग पार्टी बन सकती है. विलय कर सकती है दूसरी पार्टी में. यहां बसपा 6 के 6 विधायक मिल गए हैं तो मायावती की जो शिकायत है, वह वाजिब नहीं है. CM गहलोत के अनुसार मायावती के दो विधायक अगर-अलग होते तो शिकायत हो सकती थी. उन्होंने कहा था कि उनके पूरे 6 विधायक खुद अपने विवेक से हमारी पार्टी में शामिल हुए हैं. इसके बाद कोई वाजिब शिकायत नहीं हो सकती.

Video: CM अशोक गहलोत बोले- सत्र की तारीख आते ही हॉर्स ट्रेडिंग