राजस्थान संकट को लेकर BJP पर राहुल गांधी का हमला - Tweet कर लोगों से की यह अपील...

Rajasthan Crisis: राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर हमला बोला.

राजस्थान संकट को लेकर BJP पर राहुल गांधी का हमला - Tweet कर लोगों से की यह अपील...

Rajasthan Crisis: राहुल गांधी का BJP पर हमला.

नई दिल्ली:

Rajasthan Crisis: राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर हमला बोला. राहुल गांधी ने BJP के खिलाफ लोगों को एकजुट करने के लिए रविवार को एक वीडियो शेयर किया. हैशटैग #SpeakUpForDemocracy के साथ राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, 'एकजुट होकर लोकतंत्र की रक्षा के लिए आवाज उठायें.' मौजूदा राजस्थान संकट को लेकर कांग्रेस सोमवार को देशव्यापी विरोध की योजना बना रही है. साथ ही पार्टी ने यह भी कहा है कि जरूरत पड़ी तो वह राष्ट्रपति भवन के बाहर भी प्रदर्शन करेंगे.  
 


राहुल गांधी द्वारा शेयर किए गए वीडियो में कांग्रेस ने BJP पर 'संविधान से खिलवाड़ करने और लोकतंत्र को ध्वस्त करने' का आरोप लगाया है. वीडियो में कहा गया कि ऐसे समय में जब देश कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है, बीजेपी संविधान से खिलवाड़ कर रही है. वीडियो में कहा गया कि 'बीजेपी 2018 में राजस्थान की जनता द्वारा चुनी गई सरकार को गिराने की साजिश कर रही है, जैसा उसने मध्यप्रदेश में भी किया था.'

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी का मोदी सरकार पर तंज- आपदा को मुनाफे में बदल कमाई कर रही गरीब विरोधी सरकार

वीडियो में कांग्रेस ने 'जल्द से जल्द विधानसभा सत्र बुलाने की भी मांग की है और कहा है कि यह हमारा  संवैधानिक अधिकार है.' बता दें कि राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधानसभा सत्र शुरू करने के एक प्रस्ताव को ठुकरा दिया है.  
 


राहुल गांधी ने इसके अलावा एक और ट्वीट कर लिखा, 'भारत का लोकतंत्र संविधान के आधार पर जनता की आवाज़ से चलेगा. भाजपा के छल-कपट के षड्यंत्र को नकारकर देश की जनता लोकतंत्र और संविधान की रक्षा करेगी.

यह भी पढ़ें: राजस्थान : इतना सब कुछ होने के बाद भी सचिन पायलट को कांग्रेस निकाल क्यों नहीं रही है? 

Newsbeep

उधर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने राज्यपाल कलराज मिश्र को नया प्रस्ताव भेजा है. यह प्रस्ताव विधानसभा का सत्र बुलाने के लिए भेजा गया है. विधानसभा सत्र का एजेंडा कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी बताया गया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 31 जुलाई से विधानसभा का सत्र बुलाना चाहते हैं. नए प्रस्ताव में फ्लोर टेस्ट (बहुमत परीक्षण) कराने का प्रस्ताव नहीं है. राज्यपाल ने कहा, "वह नए प्रस्ताव की जांच-पड़ताल कर रहे हैं."   

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: राज्यपाल को मिला CM गहलोत का नया प्रस्ताव