राजस्थान सरकार हुई मजबूत, बसपा के सभी छह विधायकों ने थामा कांग्रेस का हाथ

BSP MLA Joins Congress: राजस्थान के बसपा के विधायकों ने पार्टी का कांग्रेस में विलय करने का पत्र विधानसभा अध्यक्ष को सौंप दिया

खास बातें

  • गहलोत सरकार और अधिक मजबूत और स्थिर हो जाएगी
  • विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लगातार संपर्क में थे
  • 200 सीटों वाली विधानसभा में अभी कांग्रेस के 100 विधायक
जयपुर:

बहुजन समाज पार्टी के सभी छह विधायकों ने सोमवार रात अपनी पार्टी का राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस में विलय करने के लिए एक पत्र राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा. पत्र में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) विधायकों ने कहा है कि वे अपनी पार्टी का कांग्रेस में विलय कर रहे हैं. विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि 'बसपा विधायकों ने उनसे मुलाकात की और विलय के बारे में एक पत्र उन्हें सौंपा.' बसपा के छह विधायकों में राजेंद्र सिंह गुढ़ा, जोगेंद्र सिंह अवाना, वाजिब अली, लखन सिंह मीणा, संदीप यादव और दीपचंद शामिल हैं.

बसपा विधायकों के कांग्रेस में विलय से प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार और अधिक मजबूत और स्थिर हो जाएगी. कांग्रेस के एक नेता ने कहा, बसपा के सभी छह विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लगातार संपर्क में थे और आज वे कांग्रेस के पाले में आ गए.

प्रदेश की 200 सीटों वाली विधानसभा में अभी कांग्रेस के 100 विधायक हैं और उसके सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के पास एक विधायक है. सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी को 13 निर्दलीय विधायकों में से 12 का बाहर से समर्थन प्राप्त है जबकि दो सीटें खाली हैं.

पहलू खान मामला: आरोपियों के बरी होने पर एक्शन में राजस्थान सरकार, सीएम गहलोत ने SIT बना 15 दिनों में मांगी रिपोर्ट 

राज्य में 2009 में भी अशोक गहलोत के पहले कार्यकाल के दौरान, बसपा के सभी छह विधायकों ने कांग्रेस का दामन थामा था और तत्कालीन कांग्रेस सरकार को स्थिर बनाया था. उस समय सरकार स्पष्ट बहुमत से पांच कम थी.

Newsbeep

VIDEO : राजस्थान में बीजेपी ने सभी 25 सीटें जीतीं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)