बीजेपी के इस दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री का राजनीति से मोहभंग, अब चुनाव नहीं लड़ेंगे

राजस्थान के बीजेपी के वरिष्ठ नेता व पूर्व सिंचाई मंत्री देवी सिंह भाटी ने विधानसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की

बीजेपी के इस दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री का राजनीति से मोहभंग, अब चुनाव नहीं लड़ेंगे

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने कहा है कि वे अब कभी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे.

खास बातें

  • कहा- सरकारें करती है वोटों की राजनीति, प्रजातंत्र पर भरोसा उठ रहा
  • जनहित के काम करने के लिए राजनीति की जरूरत नहीं
  • जनता की सेवा में समय बिताना ही सबसे बड़ी सेवा
बीकानेर:

राजस्थान के बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सिंचाई मंत्री देवी सिंह भाटी अब कभी भी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. उन्होंने मंगलवार को यह घोषणा की है.

भाटी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि वह अब विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे, पर जनहित के मुद्दों पर काम करते रहेंगे. जनहित के काम करने के लिए राजनीति की जरूरत नहीं है. जनता की सेवा में समय बिताना ही सबसे बड़ी सेवा है.

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकारें वोटों की राजनीति करती है. डरती है जनता से और तरह-तरह के बयान देकर सिर्फ और सिर्फ लीपापोती ही करती है. धीरे-धीरे प्रजातंत्र का विश्वास उठ रहा है.

यह भी पढ़ें : भारत बंद के एक दिन बाद राजस्थान में भड़की हिंसा, भीड़ ने 2 दलित नेताओं के घर में लगाई आग

भाटी श्रीकोलायत से सात बार विधायक रहे हैं. 1980 से लेकर 2013 तक विधानसभा चुनाव लड़ा और विधायक से लेकर मंत्री तक के पदों पर रहे हैं.

पूर्व मंत्री ने आरोप लगाया कि भारत को अंग्रेजों से आजाद हुए 70 वर्ष हो गए और आज भी व्यवस्थाएं ठीक वैसी है जैसी पहले थीं. अभी भी व्यवस्थाएं कॉरपोरेट घराने चला रहे. उन्होंने कहा कि इतने वर्षों में कुछ भी नहीं बदला, आज एक अलग ही भूमिका में देश जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : हिंसा के लिए कौन जिम्मेदार

कल हुए भारत बंद पर भाटी ने कहा कि बीकानेर वालों ने किसी न किसी बात को लेकर हमेशा बंद को देखा है लेकिन बंद को लेकर जो दहशत फैलाई गई वो पहली बार देखी गई. डर के साए में लोग रहे.
(इनपुट भाषा से)