..तो इस वजह से विधानसभा सत्र से पहले अशोक गहलोत से नहीं मिल सकेंगे सचिन पायलट

इस बीच विधानसभा सत्र से पहले सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) की मुलाकात होना मुश्किल लग रहा है. राजस्‍थान मामले के दो अहम किरदार सचिन पायलट (Sachin Pilot)  का जयपुर आना और सीएम अशोक गहलोत का जैसलमेर जानेे के कारण   यह मुलाकात हो पाना कठिन है.

..तो इस वजह से विधानसभा सत्र से पहले अशोक गहलोत से नहीं मिल सकेंगे सचिन पायलट

विधानसभा सत्र के पहले सीएम गहलोत और सचिन पायलट की मुलाकात हो पाना मुश्किल है

जयपुर :

Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस और सचिन पायलट के बीच हुए समझौते के बाद राजस्थान में सियासी बवाल थमता नजर रहा है. सोमवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से पायलट की मुलाकात के बाद सियासी संकट खत्म होता दिखा. सचिन पायलट को पार्टी में ससम्मान वापसी का आश्वासन मिला है, लेकिन कहा जा रहा है कि उनकी घर वापसी बेहद 'लो-प्रोफाइल' होगी. साथ ही उनके साथ वापस आ रहे विधायकों को भी 'लो-प्रोफाइल' रहने को कहा गया है. इस बीच विधानसभा सत्र से पहले सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) की मुलाकात होना मुश्किल लग रहा है.

 राजस्‍थान मामले के दो अहम किरदार सचिन पायलट (Sachin Pilot)  का जयपुर आना और सीएम अशोक गहलोत का जैसलमेर जानेे के कारण   यह मुलाकात हो पाना कठिन है. आज शाम जब सचिन पायलट जयपुर में होंगे तो अशोक गहलोत ने जैसलमेर में अपने ख़ेमे के विधायकों के साथ रात में रुकने का फ़ैसला किया हैं. मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने शाम 7:30 बजे जैसलमेर में सूर्यगढ़ होटल में विधायक दल की बैठक भी बुलाई है. संभव है कि कल गहलोत ख़ेमे के विधायक जयपुर पहुंचें और वापस विधानसभा सत्र तक Fairmont resort में रहें. दूसरी ओर पायलट भी दिल्ली से रोड के रास्ते जयपुर पहुंच रहे हैं और रास्ते में कहीं भी स्वागत के लिए नहीं रुक रहे हैं. सचिन ने अपनी घर वापसी बहुत लो-प्रोफाइल रखी है. उनके साथ आ रहे विधायकों को भी ऐसा ही करने को कहा गया है.

गहलोत की 'निकम्मा' टिप्पणी पर बोले पायलट, 'मेरे संस्कार ऐसी भाषा की इजाज़त नहीं देते'

गौरतलब है कि जिन सचिन पायलट को गहलोत ने राज्‍य के उप मुख्‍यमंत्री पद से बेदखल किया था, वे करीब एक माह के बाद राजस्‍थान लौटे हैं. उनकी वापसी की शर्तों में से एक यह है कि ए‍क पैनल उनकी और बागी 19 विधायकों की शिकायतों को सुनेगा. गौरतलब है कि पिछले माह गहलोत ने सार्वजनिक रूप से उनकी सरकार को गिराने के लिए बीजेपी के साथ डील करने में मामले में कोसा था. उन्‍होंने 42 साल के इस नेता को निकम्‍मा तक करार दिया था. गहलोत ने पायलट को ऐसा नेता बताया था जो केवल अपने लुक और अच्‍छी अंग्रेजी से मीडिया को प्रभावित करता है.


पायलट की 'घर वापसी' के बाद होने वाली BJP विधायकों की बैठक रद्द

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com