राजस्थान सियासी घमासान: बागी MLAs के खिलाफ कांग्रेस ने शुरू की कार्रवाई, स्पीकर ने नोटिस भेज मांगा जवाब

कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान में बागी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है. बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने की कार्रवाई शुरू की जा रही है, जिसके तहत पार्टी ने राजस्थान विधानसभा स्पीकर से उनकी विधानसभा सदस्यता को रद्द करने की कार्रवाई का आग्रह किया है.

राजस्थान सियासी घमासान: बागी MLAs के खिलाफ कांग्रेस ने शुरू की कार्रवाई, स्पीकर ने नोटिस भेज मांगा जवाब

कांग्रेस ने बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने की कार्रवाई शुरू की. (फाइल फोटो)

जयपुर:

Rajasthan Congress Crisis:कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान (Rajasthan Congress) में बागी विधायकों (Rebel MLAs) के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है. इनमें सचिन पायलट भी शामिल हैं. बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने की कार्रवाई शुरू की जा रही है, जिसके तहत पार्टी ने राजस्थान विधानसभा स्पीकर से उनकी विधानसभा सदस्यता को रद्द करने की कार्रवाई (Disqualification Proceedings) का आग्रह किया है. कांग्रेस की शिकायत पर स्पीकर ने इन बागी विधायकों को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है. विधायकों को जवाब देने के लिए 17 जुलाई तक का वक्त दिया गया है. अनुमान है कि लगभग 15 विधायकों के खिलाफ पार्टी ने कार्रवाई का फैसला किया है. 

बता दें कि मंगलवार को पार्टी ने सचिन पायलट पर कार्रवाई करते हुए उन्हें डिप्टी सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटा दिया था. इसके अलावा उनके समर्थन में उतरे दो मंत्रियों- रमेश मीणा और विश्वेंद्र सिंह को भी उनके पद से हटा दिया गया था. अब उन बाकी विधायकों पर कार्रवाई की जा रही है, जो संभावित रूप से पायलट खेमे में हैं.

सोमवार की रात को पायलट खेमे की ओर से एक वीडियो जारी किया गया था, जिसमें एक साथ करीब 15-16 विधायक बैठे नजर आ रहे थे. माना गया था कि ये सचिन पायलट के समर्थन में उतरे विधायक थे. सोमवार को पार्टी की ओर से विधायक दल की बैठक बुलाई गई थी लेकिन इस मीटिंग में पायलट नहीं आए थे, जिसके बाद पार्टी की ओर से बोला गया कि वो खुले दिल से वापस आए और बातचीत करके मामला सुलझाए. इसके बाद मंगलवार को फिर विधायक दल की दूसरी बैठक बुलाई गई, लेकिन पायलट फिर नहीं आए. जिसके बाद पार्टी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनको पूरी तरह से पदमुक्त करने की घोषणा कर दी.

पार्टी की ओर से कार्रवाई के बाद सचिन पायलट ने ट्विटर अपनी पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 'सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं'. अब देखना है कि सचिन पायलट की क्या योजना है. हालांकि, इसके बाद अशोक गहलोत खेमे की भी हालत बहुत अच्छी नही दिख रही. हो सकता है कि उनको फ्लोर टेस्ट का सामना करना पड़े.

Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: बागी सचिन पायलट उपमुख्यमंत्री पद से बर्खास्त

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com