NDTV Khabar

राजनाथ बोले, जरूरत पड़ने पर दुश्मन के घर में घुसकर भी मार सकते हैं

राजनाथ सिंह ने भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक संघ के एक दिवसीय महाधिवेशन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान का जिक्र किया और कहा कि भारत अपने पड़ोसी के साथ अच्छे संबंध रखना चाहता है लेकिन पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजनाथ बोले, जरूरत पड़ने पर दुश्मन के घर में घुसकर भी मार सकते हैं

केन्‍द्रीय गृहमंत्री राजनाथ ने कहा कि जरूरत पड़ने पर दुश्मन के घर में घुसकर भी मार सकते हैं

खास बातें

  1. भारत की दुनिया में अब एक मजबूत देश के रूप में छवि बन चुकी है
  2. पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है.
  3. देश की अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है
लखनऊ: केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि भारत की दुनिया में अब एक मजबूत देश के रूप में छवि बन चुकी है और हिंदुस्तान ने पूरी दुनिया को संदेश दे दिया है कि वह सरहद के इस पार ही नहीं बल्कि जरूरत पड़ने पर उस पार भी घुसकर दुश्मन को मार सकता है.

पाकिस्‍तान ने फिर किया सीजफायर का उल्‍लंघन, 4 दिन में पांच जवान शहीद

सिंह ने भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक संघ के एक दिवसीय महाधिवेशन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान का जिक्र किया और कहा कि भारत अपने पड़ोसी के साथ अच्छे संबंध रखना चाहता है लेकिन पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है.

शहीदों के परिवारों की मदद के लिए एक दिन में जुट गया 13 करोड़ रुपये का चंदा

गृह मंत्री ने कहा कि दुनिया में भारत अब कमजोर नहीं बल्कि ताकतवर देश के रूप में जाना जाता है. हमने पूरी दुनिया को यह संदेश दे दिया है कि हम सीमा के इस पार ही नहीं बल्कि जरूरत पड़ने पर उस पार भी घुसकर दुश्मन को मार सकते हैं. सिंह ने कहा कि वह देश को यकीन दिलाना चाहते हैं कि हमारी सरकार हिंदुस्तान का सिर नहीं झुकने देगी.

गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश की अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है और अब अंतर्राष्ट्रीय अर्थशास्त्री तथा विशेषज्ञ भी इसे स्वीकार करते हैं. सिंह ने कहा कि वह रेलवे माल गोदाम श्रमिक संघ की समस्याओं को लेकर रेल मंत्री तथा श्रमिक संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठकर चर्चा करेंगे.

टिप्पणियां
VIDEO: राजनाथ सिंह ने कहा था चीनी भाषा सीख रहे हैं जवान

उन्होंने विश्वास दिलाया कि वह रेलवे माल गोदाम श्रमिकों की मांगों की मजबूती से पैरवी करेंगे.(इनपुट भाषा से)

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement