NDTV Khabar

सीएम योगी और राजनाथ सिंह आज दिखाएंगे लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी

मेट्रो की शुरुआत होने से लखनऊ की सडकों पर यातायात का दबाव कम होने की उम्मीद है. मेट्रो को लेकर शहर की जनता में काफी उत्साह है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम योगी और राजनाथ सिंह आज दिखाएंगे लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी

विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने आनन-फानन में लखनऊ मेट्रो का उद्घाटन कर गिया था.

खास बातें

  1. लखनऊ मेट्रो का क्रिडिट लेने की मची होड़
  2. बीजेपी नेता इसे पीएम मोदी का सपना पूरा होनेा बता रहे
  3. वहीं सपा इसे अखिलेश सरकार की देन मान रही है
लखनऊ: केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज (मंगलवार) को झंडी दिखाकर लखनऊ मेट्रो सेवा की शुरुआत करेंगे. राजनाथ सिंह और योगी ट्रांसपोर्ट नगर मेट्रो स्टेशन से मेट्रो ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. राजनाथ लखनऊ से ही लोकसभा सांसद हैं. हालांकि, जनता के लिए मेट्रो सेवा अगले दिन से शुरू होगी. मेट्रो की शुरुआत होने से लखनऊ की सडकों पर यातायात का दबाव कम होने की उम्मीद है. मेट्रो को लेकर शहर की जनता में काफी उत्साह है.

ये भी पढ़ें:  मेट्रो निर्माण के दौरान हादसा, लोहे की रॉड गिरने से एक व्‍यक्ति की मौत-एक घायल

परियोजना के पहले चरण के तहत मेट्रो ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग के बीच साढ़े आठ किलोमीटर चलाई जा रही है. यह सेवा सुबह छह बजे से रात दस बजे तक जनता के लिए उपलब्ध होगी.

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले पिछले साल दिसंबर में लखनऊ मेट्रो के ट्रायल रन को हरी झंडी दिखायी थी.

ये भी पढ़ें:  उत्तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार को केंद्र ने दिए 1,263 करोड़ रुपये

कार्यक्रम में केंद्रीस गृह मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह की उपस्थिति भाजपा की ओर से संकेत होगा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने परियोजना के लिए अधिकांश धन मुहैया कराया है.

टिप्पणियां
विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने लखनऊ मेट्रो को लेकर पूर्ववर्ती सपा सरकार पर निशाना साधा था. भाजपा ने सवाल किया था कि लखनऊ में मेट्रो अभी भी क्यों नहीं चल रही है. लखनऊ मेट्रो परियोजना की शुरुआत 2013 में अखिलेश यादव सरकार ने की थी.

VIDEO:लखनऊ मेट्रो के ट्रॉयल रन का शुभारंभ

लखनऊ मेट्रो को लेकर राजनीतिक बयानबाजी के बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि परियोजना को मेट्रो रेलवे सुरक्षा की ओर से सुरक्षा मंजूरी मिलनी बाकी है. उनका आरोप था कि केन्द्र मंजूरी में विलंब कर रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement