NDTV Khabar

असम में 40 लाख लोग अवैध नागरिक, संसद में हंगामे के दौरान राजनाथ सिंह ने दिया आश्वासन

संसद के मॉनसून सत्र के दौरान लोकसभा में उन्होंने कहा, "यह ड्राफ्ट सूची है, अंतिम सूची (फाइनल लिस्ट) नहीं. अगर किसी का नाम फाइनल लिस्ट में भी नहीं आता है, तो भी वह विदेशी न्यायाधिकरण में जा सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
असम में 40 लाख लोग अवैध नागरिक, संसद में हंगामे के दौरान राजनाथ सिंह ने दिया आश्वासन

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली: असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) की सूची जारी होने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि किसी को भी घबराने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि जिनका नाम लिस्ट में नहीं है, उनके खिलाफ किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी. केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, "कुछ लोग अनावश्यक रूप से डर का माहौल पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. यह पूरी तरह निष्पक्ष रिपोर्ट है. किसी भी तरह की गलत सूचना नहीं फैलाई जानी चाहिए." 

असम में रहने वाले 40 लाख लोग अवैध नागरिक, NRC में 2.89 करोड़ वैध नागरिक गिने गए

संसद के मॉनसून सत्र के दौरान लोकसभा में उन्होंने कहा, "यह ड्राफ्ट सूची है, अंतिम सूची (फाइनल लिस्ट) नहीं. अगर किसी का नाम फाइनल लिस्ट में भी नहीं आता है, तो भी वह विदेशी न्यायाधिकरण में जा सकता है. किसी के भी विरुद्ध बलपूर्वक कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी, इसलिए किसी को भी घबराने की ज़रूरत नहीं है."

टिप्पणियां
असम में नागरिकता की लिस्ट जारी, 40 लाख लोग अवैध पाए गए​


असम में NRC सूची को लेकर संसद में शोरशराबे के बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में कहा, "मैं विपक्ष से पूछना चाहता हूं, इसमें केंद्र की क्या भूमिका है. यह सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में हो रहा है. इस तरह के संवेदनशील मुद्दों का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए." आपको बता दें कि इस मुद्दे पर संसद में टीएमसी सांसदों ने जोरदार हंगामा किया है जिसकी वजह से राज्यसभा को स्थगित करना पड़ा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement