NDTV Khabar

अमरनाथ यात्रियों पर हमले के पीछे लश्कर का हाथ, अजित डोभाल और राजनाथ सिंह ने की हाई लेवल मीटिंग

सूबे की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती घटनास्थल पहुंची और अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल लिया. केंद्रीय गृह मंत्री और पीएम मोदी ने उनसे बात कर हालात का जायज़ा लिया.

350 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमरनाथ यात्रियों पर हमले के पीछे लश्कर का हाथ, अजित डोभाल और राजनाथ सिंह ने की हाई लेवल मीटिंग

अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला

खास बातें

  1. अजीत डोभाल ने की बैठक की अध्यक्षता
  2. राजनाथ बोले- आतंकियों की कायराना हरकत की निंदा करते हैं.
  3. राजनाथ के बाद पीएम मोदी से मिलने पहुंचे अजीत डोभाल
नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में बीती रात आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला कर दिया, जिसमें 7 लोगों की मौत हो गई. 19 लोग घायल हुए हैं. पुलिस के मुताबिक- इस हमले के पीछे आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का हाथ है. इस हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकवादी अबु इस्माइल है. एक दिन पहले ही पुलिस ने कश्मीर में लश्कर के नेटवर्क का खुलासा किया था और मुजफ्फरनगर के एक शख्स को गिरफ्तार किया था जो कश्मीर में लश्कर के लिए काम करता था. आतंकवादियों ने पहले खन्नाबल में सुरक्षाबलों पर हमला किया और बाद में भागते वक्त बटिंगु में बस में सवार यात्रियों को अपना निशाना बनाया. यह हमला रात 8 बजकर 20 मिनट पर हुआ जब यह बस बालटाल से जम्मू लौट रही थी. बताया जा रहा है कि यह बस गुजरात से आई थी. यह न तो अमरनाथ यात्रा के आधिकारिक जत्थे का हिस्सा थी और न ही अमरनाथ श्राइन में इसका रजिस्ट्रेशन कराया गया था. लौटते वक़्त आतंकियों ने अरवानी में सीआरपीएफ़ कैंप पर भी फायरिंग की.  सीआरपीएफ़ की 2 बटालियन मौके पर रवाना हो गई हैं. (पहले भी कई बार हो चुके हैं हमले)

राजनाथ सिंह और अजीत डोभाल ने की आपात बैठक
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के घर हाईलेवल मीटिंग हुई. इस बैठक की अध्यक्षता एनएसए अजीत डोभाल ने की. इस मीटिंग के बाद डोभाल पीएम नरेंद्र मोदी के घर पहुंचे. हमले को लेकर राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंकियों की कायराना हरकत की निंदा करते हैं.

सुरक्षा कड़ी और इंटरनेट सेवा बंद
जम्मू में हुए आतंकी हमलों के बाद उधमपुर समेत देश के कई हिस्सों में सुरक्षा के पुख़्ता बंदोबस्त किए गए हैं.हमले के बाद उधमपुर में जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे पर सुरक्षा काफ़ी बढ़ा दी गई है. इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

बस का टायर पंचर कैसे हुआ इसकी जांच होगी : महबूबा मुफ्ती
सूबे की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती घटनास्थल पहुंची और अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल लिया. केंद्रीय गृह मंत्री और पीएम मोदी ने उनसे बात कर हालात का जायज़ा लिया है. महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि बस का टायर कैसे पंचर हुआ, इसकी जांच होगी. हमले के बाद भी अमरनाथ यात्रा जारी है. आज तड़के 3 बजे अमरनाथ यात्रियों का एक जत्था रवाना हो गया. आज रवाना हुए जत्थे में क़रीब 2400 लोग रवाना हुए. ये यात्री 73 गाड़ियों से रवाना हुए हैं. 

पीएम मोदी ने ट्वीट करके हमले की निंदा की
इस हमले पर पीएम मोदी ने ट्वीट किया है कि अमरनाथ यात्रियों पर हुए इस कायराना हमले का दर्द शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता. हर किसी की तरफ से इस हमले की कड़ी निंदा होनी चाहिए. इस हमले में मारे गए सभी लोगों के परिवारवालों के प्रति मेरी सहानुभूति है. घायलों के लिए प्रार्थना. उन्होंने एक और ट्वीट किया कि भारत इस तरह के कायरना हमलों और नफ़रत के शैतानों के आगे झुकेगा नहीं.

आईजी ने चिट्ठी जारी कर दी सूचना
इस हमले के बाद कश्मीर ज़ोन के आईजी ने एक चिट्ठी जारी की है, जिसमें एसएसपी की इंटेलिजेंस रिपोर्ट का ज़िक्र है.
  • आतंकियों के निशाने पर 100-150 श्रद्धालु 
  • क़रीब 100 पुलिसकर्मी, अधिकारी निशाने पर 
  • देश में सांप्रदायिक तनाव फैलाने के मक़सद से यात्रियों पर हमला संभव
  • तैनात सुरक्षाबलों को हमेशा अलर्ट रहना होगा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement