ड्रग्स केस : मीडिया कवरेज से ख़फा रकुल प्रीत सिंह फिर HC पहुंची, बोलीं- मेरी इमेज खराब की जा रही है

कोर्ट ने कहा कि अगर इस मामले में मीडिया गलत रिपोर्टिंग कर रहा है तब तो आप उनकी शिकायत आई एंड बी मिनिस्ट्री से कर सकते हैं या फिर आप उन चैनलों के खिलाफ सिविल सूट दायर कर सकती है.

ड्रग्स केस : मीडिया कवरेज से ख़फा रकुल प्रीत सिंह फिर HC पहुंची, बोलीं- मेरी इमेज खराब की जा रही है

मीडिया पर रकुल प्रीत से जुड़ी किसी भी ख़बर को दिखलाने पर रोक लगाने की मांग (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

एक्ट्रेस रकुल प्रीत सिंह (Rakul Preet Singh) की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) में आज सुनवाई चल रही है. रकुल के वकील ने कोर्ट से कहा कि उसके खिलाफ कोई भी आपराधिक मामला नहीं है, लेकिन मीडिया लगातार उसके खिलाफ गलत खबर चला रही है. मीडिया ट्रायल की वजह से उसकी सामाजिक इमेज खराब हो रही है. साथ ही परिवार और दोस्तो पर भी खराब असर पड़ रहा है इसलिए मीडिया पर रकुल प्रीत से जुड़ी किसी भी ख़बर को दिखलाने पर रोक लगाई जाए. 

रकुल के वकील ने कहा कि मीडिया में दिखाई जा रही रिपोर्ट का सुशांत सिंह राजपूत के केस में हो रहे ट्रायल पर भी गलत असर पड़ेगा. रकुल प्रीत सिंह ने कहा कि एनसीबी ने मुझे पेश होना का आदेश दिया था, मैं उनके सामने पेश हुई लेकिन मेरे पेश होने से पहले ही मीडिया ने घर को घेर लिया. 

सुशांत सिंह राजपूत केस से जुड़े ड्रग्स मामले में फंसी एक्ट्रेस रकुल प्रीत सिंह ने एक बार फिर दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया है. उन्होंने अदालत से मांग की है कि उनके खिलाफ मीडिया में चल रहीं खबरों और पब्लिश हो रहे आर्टिकल्स को तुरंत रोकने के अंतरिम निर्देश दिए जाएं. रकुल ने दावा किया है कि वह हैदराबाद में फिल्म की शूटिंग कर रही थीं. 23 सितंबर की शाम को वे मीडिया रिपोर्ट्स में यह देखकर हैरान थीं कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने रिया चक्रवर्ती के ड्रग्स केस कनेक्शन में उन्हें समन भेजा है और 24 सितंबर को मुंबई में एनसीबी के सामने पेश होने के लिए कहा है. याचिकाकर्ता (रकुल) को उनके हैदराबाद या मुंबई के पते पर कोई समन नहीं मिला था. इसलिए वे हैदराबाद में रहीं.

ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, रकुल प्रीत सिंह के मोबाइल फोन किए गए सीज

याचिकाकर्ता के पिता कर्नल कलविंदर सिंह (रिटायर्ड) ने 24 सितंबर की सुबह रिपोर्ट्स की सच्चाई का पता लगाने के लिए फ्लाइट से मुंबई जाने का फैसला लिया. हालांकि, 23 सितंबर की शाम से ही मीडिया ने फेक न्यूज चलानी शुरू कर दी थीं कि याचिकाकर्ता पूछताछ के लिए मुंबई पहुंच गई है, जबकि वे उस वक्त तक हैदराबाद में ही थीं. 

रकुल के मुताबिक, रकुल प्रीत सिंह को 24 सितंबर की सुबह करीब 11: 20 बजे एनडीपीएस एक्ट के सेक्शन 67 के तहत समन मिला, जो 23 सितंबर को वॉट्सऐप के जरिए भेजा गया था. इसमें उन्हें 24 सितंबर की सुबह 10 बजे एनसीबी के सामने पेश होने की बात कही गई थी. याचिका के मुताबिक, 24 सितंबर को एनसीबी से उन्हें मेल के जरिए पता चला कि उन्हें जिस केस में पेश होना है.

कोर्ट ने कहा कि अगर इस मामले में मीडिया गलत रिपोर्टिंग कर रहा है तब तो आप उनकी शिकायत आई एंड बी मिनिस्ट्री से कर सकते हैं या फिर आप उन चैनलों के खिलाफ सिविल सूट दायर कर सकती है, जिन पर आप आरोप लगा रही हैं. 

वकील ने रकुल के हवाले से कहा कि मेरे खिलाफ खबर चलाई जा रही है कि मैंने ड्रग्स का सेवन किया आगे लोगो को दिया जबकि मैं न स्मोक करती हूं और न ही शराब की सेवन करती हूं. ऐसी हालत में मेरे खिलाफ लगातार खबर चल रही हैं. मेरी इमेज को खराब किया जा रहा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पिछले हफ्ते रकुल प्रीत सिंह अचानक से तब चर्चा में आ गईं, जब एनसीबी के सूत्रों के हवाले से दावा किया गया कि ड्रग्स केस में रिया चक्रवर्ती ने सारा अली खान, रकुल प्रीत सिंह और फैशन डिजाइनर सिमोन खंबाटा का नाम लिया है. इसके बाद एक्ट्रेस ने मीडिया ट्रायल के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. हाईकोर्ट ने मीडिया को लेकर यह उम्मीद जताई थी कि वह रिया चक्रवर्ती के केस में रकुल प्रीत सिंह से संबंधित खबरों में संयम बरतेगा. हाईकोर्ट ने केंद्र, प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया और NBA को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था. 

वीडियो: ड्रग्स मामले में सितारों पर कसता शिकंजा