टेंट गिरने से 14 की मौत: 'पंडाल उड़ रहा है, खाली कर दो' कहकर जाते दिखे कथावाचक फिर मची भगदड़, सामने आया VIDEO

राजस्थान के बाड़मेर में रामकथा के दौरान आंधी तूफान की वजह से पंडाल गिरने से 14 लोंगो की मौत हो गई और करीब 50 लोग घायल हो गए है.

टेंट गिरने से 14 की मौत: 'पंडाल उड़ रहा है, खाली कर दो' कहकर जाते दिखे कथावाचक फिर मची भगदड़, सामने आया VIDEO

कथावाचक मुरलीधर महाराज

खास बातें

  • रामकथा पंडाल गिरने से 14 की मौत
  • कई घायलों की हालत गंभीर
  • 30 जून को समाप्त होनी थी रामकथा
जयपुर:

राजस्थान के बाड़मेर में रामकथा के दौरान तेज हवाओं और बारिश की वजह से पंडाल गिरने की घटना से चंद मिनट पहले का एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में राम कथावाचक मुरलीधर महाराज यह कहते हुए दिख रहें हैं कि हवा तेज है और कथा को बीच में ही रोकना पड़ेगा. वे मंच से ही लोगों से जल्द से जल्द पंडाल खाली करने के लिए कहते हैं. इसके बाद वे खुद भी जल्दी ही मंच छोड़कर चले जाते हैं. उनके इतना कहने के चंद पलों में ही पंडाल गिरने लगता है लोगों के बीच भगदड़ मच जाती है. 

जयपुर से लगभग 500 किलोमीटर दूर बाड़मेर जिले के जसोल के एक स्कूल ग्राउंड में राम कथा के लिए लोग इकट्ठा हुए थे. इस कार्यक्रम की लाइव रिकॉर्डिंग चल रही थी. तभी आंधी और तूफान की वजह से पंडाल गिर गया और कई लोग इसके नीचे दब गए. इनमें से 14 लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 50 लोग घायल हो गए.  घायलों को पास के अस्पतालों में ले जाया गया, जहां उनमें से कई की हालत गंभीर बनी हुई है.

राजस्‍थान के बाड़मेर में राम कथा के दौरान बारिश और तूफान से गिरा टेंट, 14 की मौत, दर्जनों घायल 

सूत्रों के अनुसार, घटनास्थल पर जनरेटर के कारण फंसे हुए लोगों में से कुछ लोगों को बिजली का करंट लग गया.  राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर संवेदना व्यक्त की है.  उन्होंने कहा,  ' राजस्थान की घटना दुर्भाग्‍यपूर्ण है. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ है और मैं घायलों के जल्‍द स्‍वस्‍थ होने की कामना करता हूं.' उनके बाद गृह मंत्री अमित शाह और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी इस घटना के लिए खेद जताया है. 

रामकथा में झूमतीं, नाचतीं और कभी आंसुओं के साथ भावविभोर हो रहीं गणिकाएं

बता दें रानी भटियानी मंदिर द्वारा आयोजित यह राम कथा कार्यक्रम शनिवार को शुरू हुआ और इसे 30 जून तक चलना था. घटना स्थल पर बचाव कार्य जारी है. 

यहां देखें वीडियो- 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com