NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने पर बोले राम माधव - आखिरकार श्यामा प्रसाद मुखर्जी की शहादत का हुआ सम्मान

राम माधव (Ram Madhav) ने धारा 370 को हटाए जाने की घोषणा के बाद एक ट्वीट किया. उन्होंने कहा कि क्या गौरवशाली दिन है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. राम माधव ने किया फैसले का स्वागत
  2. कहा- इतिहास की गलती को सुधारा गया
  3. सोमवार को अमित शाह ने दिया संसद में बयान
नई दिल्ली:

राज्यसभा में अमित शाह द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने की घोषणा के बाद भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और वरिष्ठ नेता राम माधव (Ram Madhav) ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने (Ram Madhav) कहा कि आखिरकार भारत में राज्य के पूर्ण विलय की डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की इच्छाओं का सम्मान हुआ. देश जम्मू-कश्मीर के पूर्ण विलय की लंबे समय से मांग कर रहा था. राम माधव (Ram Madhav) ने धारा 370 को हटाए जाने की घोषणा के बाद एक ट्वीट भी किया. उन्होंने कहा कि क्या गौरवशाली दिन है. आखिरकार डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी समेत हजारों शहीदों की भारत में जम्मू-कश्मीर के पूर्ण विलय की इच्छा का सम्मान हुआ और पूरे देश की सात दशक पुरानी मांग हमारी आंखों के सामने पूरी हुई. क्या कभी ऐसा सोचा था?


बता दें कि सोमवार को राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को अब हटा दिया गया है. राज्यसभा में भारी हंगामे के बीच उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के कई खंड लागू नहीं होंगे. सिर्फ खंड एक बचा रहेगा. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर को मिला विशेष राज्य का दर्जा खत्म हो गया है. वहीं उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर अलग केंद्र शासित प्रदेश बनेगा और लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा.  जम्मू-कश्मीर विधानसभा के साथ केंद्र शासित प्रदेश बनेगा. गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद 370 का सहारा लेकर तीन परिवारों ने सालों तक जम्मू-कश्मीर को लूटा है.

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म, बीएसपी का समर्थन, JDU विरोध में, 10 बड़ी बातें

अमित शाह ने कहा, नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद जी कहते हैं कि अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर को भारत से जोड़ता है यह सही नहीं है. महाराज हरि सिंह ने 27 अक्टूबर को 1947 को भारत के साथ विलय पर दस्तखत किए थे. लेकिन अनुच्छेद 370  को 1954 में  लाया गया था.  अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाने में एक सेकेंड भी नहीं लगना चाहिए. सरकार के इस फैसले पर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि वह 2-3 सांसदों का संविधान की कॉपी फाड़ने के फैसले की निंदा करते हैं.

कश्मीर पर बड़ा फैसला: धारा 370 हटने पर महबूबा मुफ्ती बोलीं- आज भारतीय लोकतंत्र का स्याह दिन

हम भारत के संविधान के साथ खड़े हैं. हम हिंदुस्तान की रक्षा के लिए जान की बाजी लगा देंगे. लेकिन आज बीजेपी ने संविधान की हत्या कर दी है. दूसरी बहुजन समाज पार्टी यानी बीएसपी ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले का समर्थन किया है. बीएसपी के राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, उनकी पार्टी अनुच्छेद 370 हटाने का पूरा समर्थन करती है. हम चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर से जुड़े बिल पास हों.

टिप्पणियां

जम्मू-कश्मीर पर मोदी सरकार का बड़ा ऐलान: हटाई गई धारा 370, दो हिस्सों में बंटेगा J&K, लद्दाख बनेगा अलग केंद्र शासित प्रदेश

दूसरी ओर पीडीपी के राज्यसभा सांसद नजीर अहमद और एमएम फैयाज ने सरकार के फैसले का संसद परिसर में विरोध किया है. इससे पहले उनको राज्यसभा से बाहर जाने के लिए कहा गया. जम्‍मू-कश्‍मीर का क्षेत्रफल के हिसाब से बड़ा डिविजन लद्दाख है. काफी समय से वहां के लोगों की मांग थी कि इसे अलग केंद्र शासित प्रदेश की मान्‍यता मिले. वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए इसे जम्‍मू-कश्‍मीर से अलग कर केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement