NDTV Khabar

राम रहीम पर फैसले से पहले सुरक्षा के भारी इंतजाम, हरियाणा में अफसरों की छुट्टियां रद्द, पंजाब भी अलर्ट पर

25 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के खिलाफ चल रहे दुष्कर्म के मामले पर अदालत अपना फैसला सुनाएगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राम रहीम पर फैसले से पहले सुरक्षा के भारी इंतजाम, हरियाणा में अफसरों की छुट्टियां रद्द, पंजाब भी अलर्ट पर

कोर्ट के फैसले के मद्देनजर चंडीगढ़ और पंचकूला में सुरक्षाबल लगातार गश्त कर रहे हैं

खास बातें

  1. चंडीगढ़ के सेक्टर-16 का स्टेडियम अस्थाई जेल में तब्दील
  2. चंडीगढ़ के सभी निजी और सरकारी स्कूल दो दिन के लिए बंद
  3. पेट्रोल पंपों पर 26 अगस्त तक नहीं बिकेगा खुले में पेट्रोल-डीज़ल
चंडीगढ़: 25 अगस्त को सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ चल रहे दुष्कर्म मामले में कोर्ट का फैसला आना है. मामले की संवेनशीलता को देखते हुए हरियाणा सरकार ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. लगभग समूचे राज्य को सुरक्षा बलों के हवाले कर छावनी में तब्दील कर दिया गया है. 10 वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों को अलग से पंचकूला में तैनात किया गया है. इनके अलावा 2500 पुलिसकर्मी, अर्ध सैनिक बल तथा अन्य सुरक्षा एजेंसियों को पंचकुला के चप्पे-चप्पे पर लगाया गया है. अर्ध सैनिक बलों की 8 कंपनियां हरियाणा आ चुकी हैं तथा केंद्र सरकार से और अधिक कंपनियों की मांग की गई है.
 
यह भी पढ़ें: रहस्य से कम नहीं है डेरा प्रमुख संत गुरुमीत राम रहीम का जीवन, ऐसी बातें जो कर देंगी हैरान

सुरक्षा एजेंसियों से मिली जानकारी के मुताबिक डेरा प्रमुख खुद ही कोर्ट में पेश होंगे. पुलिस को यह जिम्मेदारी नहीं दी गई है. डेरा के नाम पर जो भी लाइसेंसी हथियार हैं उन्हें पुलिस थानों में जमा कराया जा रहा है. सरकार अपनी तरफ से कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाह रही है. सूत्र बताते हैं कि अगर जरूरत पड़ी तो कुछ इलाकों में कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है. 

यह भी पढ़ें: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख पर फैसले से पहले छावनी बना हरियाणा, सीमाएं की गईं सील

जानकारी के मुताबिक, हरियाणा के सभी आईएएस और आईपीएस अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. स्वास्थ्य विभाग की छुट्टियां भी कैंसिल कर दी गई हैं. स्वास्थ्य विभाग ने चंडीगढ़ और पंचकूला के बाहर से आने वाले सभी डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को तीन दिन अपने केंद्र नहीं छोड़ने के आदेश जारी किए हैं. पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. हरियाणा परिवहन विभाग की बसें आज बुधवार से पंचकुला और चंडीगढ़ नहीं जा रही हैं. चंडीगढ़ के हर एंट्री प्वाइंट पर नाकेबंदी कर वाहनों की जांच की जा रही है. चंडीगढ़ के सेक्टर-16 के स्टेडियम को अस्थाई जेल में तब्दील किया गया है. 

यह भी पढ़ें: MSG-2 के प्रीमियर के चलते गुड़गांव में लगा जाम

चंडीगढ़ प्रशासन की ओर से भी अतिरिक्त सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं. सभी सुरक्षाकर्मियों की छुट्टियां रद्द करके उन्हें वापस बुलाया गया है. कुल 5,000 सुरक्षाकर्मी यहां तैनात किए गए हैं. चंडीगढ़ के सभी निजी और सरकारी स्कूलों को 24 तथा 25 अगस्त के लिए बंद कर दिया गया है.

पंजाब और हरियाणा सरकारों ने पेट्रोल पंपों पर खुले में तेल नहीं बेचने के आदेश जारी किए हैं. एक पेट्रोल पंप के मैनेजर रोहताश ने बताया कि प्रशासन ने सभी पंप मालिकों को बोतल, कैनी में पेट्रोल व डीजल नही देने के आदेश दिए हैं, जिसका वे सख्ती से पालन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को डीज़ल केवल अस्पताल के लिए ही दे रहे हैं. प्रशासन को आशंका है कि राम रहीम के समर्थक उपद्रव कर सकते हैं. 

उधर, प्रशासन की तैयारियों को ताक पर रखकर डेरा प्रेमी हरियाणा में जुट रहे हैं. अब तक लाखों डेरा प्रेमी यहां डेरा डाल चुके हैं. फाजिल्का स्थित डेरा में हज़ारों की तादाद में राम रहीम के अनुयायी चुके हैं. ये लोग निजी वाहनों से चंडीगढ़ और पंचकूला पहुंच रहे हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement