NDTV Khabar

योग पूर्वजों की विरासत, इस पर सियासत नहीं होनी चाहिए : NDTV से रामदेव

योग से अच्छे आदमी का निर्माण होता है. एक चाय बेचने वाले का बेटा प्रधानमंत्री (पीएम मोदी) बन सकता है और एक मंदिर का महंत सीएम (योगी आदित्यनाथ) बन सकता है.

316 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. योग पर सियासत नहीं होनी चाहिए
  2. खाने के 4 घंटे बाद योग कर सकते हैं
  3. पतंजलि के खिलाफ दुष्प्रचार चल रहा है
नई दिल्ली: योग दिवस की तैयारियों को लेकर योगगुरु रामदेव ने एनडीटीवी से खास बातचीत की. उन्होंने बताया कि 21 जून को करीब 5 लाख लोग एक साथ योग करेंगे. लाखों-करोड़ों लोगों को एक साथ योग करते हैं तो अच्छा लगता है. योग एक रोगी के लिए औषधि है. योग से किसी का मजहब नहीं बदलता. यह सबके लिए है. स्वस्थ शरीर की जरूरत सभी को है.

उन्होंने आगे कहा कि योग से हमारे भीतर की सुप्त शक्ति जागृत होती है. एक चाय बेचने वाले का बेटा प्रधानमंत्री (पीएम मोदी) बन सकता है और एक मंदिर का महंत सीएम (योगी आदित्यनाथ) बन सकता है. इन दोनों के जीवन में योग है. रामदेव भी योग के कारण ही योगगुरु रामदेव हैं. दुनिया में सबसे बड़ा काम अच्छे आदमी का निर्माण है. योग से ही एक अच्छे आदमी का निर्माण होता है. 

योग हमारे पूर्वजों को विरासत है, इस पर सियासत नहीं करनी चाहिए. इस पर गर्व करना चाहिए. अच्छा इंसान योग, अच्छी शिक्षा और संस्कारों से बन सकता है.  जितना और जैसा योग आता है, योग करना चाहिए. मैंने योग की अच्छी पैकेजिंग भी दी है, क्योंकि मैं नहीं चाहता कि योग हारे, योग जीतना चाहिए. योग को स्वभाव बनाने से न बीमारी आएगी और न बुराई. बिजी लोगों के लिए ईजी योग भी है. 

उन्होंने आगे यह भी कहा कि पतंजलि के खिलाफ दुष्प्रचार किया जा रहा है. इसके बावजूद बिक्री पर कोई असर नहीं पड़ा है. लोगों का हम पर विश्वास है. हम उनका विश्वास नहीं कभी नहीं तोड़ेंगे. पतंजलि के फायदे का 100 प्रतिशत पैसा चैरिटी में खर्च होगा. पतंजलि कभी भी किसी विदेशी कंपनी से हाथ नहीं मिलाएगा. 

किसानों के आंदोलन पर रामदेव ने कहा कि किसानों को कम से कम लागत और लाभकारी मूल्य मिलना चाहिए. सारी दुनिया में कृषि में सब्सिडी होती है. किसानों को सीधे सब्सिडी मिलनी चाहिए. एनपीए पर कंट्रोल होना चाहिए.

गो रक्षा को लेकर कानून के उल्लंघन को लेकर रामदेव ने कहा कि गो रक्षक और गो तस्कर जो भी कानून का उल्लंघन करता है, उन्हें सजा मिलनी चाहिए. हिंसा और क्रूरता की बात किसी को नहीं करना चाहिए.

राष्ट्रपति बनने की दौड़ को लेकर रामदेव ने कहा कि मैं इस दौड़ में नहीं हूं. 

रामदेव की कही खास बातें
  • धर्म के नाम पर कई जगह पाखंड चल रहा है, इसे छोड़कर कर्मयोग करें. 
  • सुबह-सुबह सूर्य नमस्कार करके ऊर्जा प्राप्त करें
  • ओम कोई मजहबी शब्द नहीं है
  • योग को ज्यादा रहस्यमय बनाने की जरूरत नहीं
  • योग से हमारे भीतर की सुप्त शक्ति जागृत होती है
  • लाखों करोड़ों लोग साथ योग करते हैं तो अच्छा लगता है
  • खाने के 4 घंटे बाद भी योग किया जा सकता है



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement