यह ख़बर 20 जुलाई, 2012 को प्रकाशित हुई थी

रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण फर्जी पासपोर्ट मामले में गिरफ्तार

रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण फर्जी पासपोर्ट मामले में गिरफ्तार

खास बातें

  • बालकृष्ण पर आरोप है कि उन्होंने फर्जी दस्तावेज के आधार पर अपना पासपोर्ट बनवाया है। उन्हें कोर्ट में पेश होने को कहा गया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए। इसके बाद उनके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी हुआ।
हरिद्वार:

बाबा रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया गया है। फर्जी पासपोर्ट के मामले में देहरादून की अदालत ने बालकृष्ण के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था।

उन पर आरोप है कि उन्होंने फर्जी दस्तावेज के आधार पर अपना पासपोर्ट बनवाया है। इस मामले में उन्हें कोर्ट में पेश होने को कहा गया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए। इसके बाद उनके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी हुआ।

सीबीआई ने बालकृष्ण के खिलाफ आपराधिक साजिश, धोखाधडी और पासपोर्ट कानून के उल्लंघन के आरोप लगाए हैं। सीबीआई के प्रवक्ता ने बताया कि शिकायत में यह आरोप लगाया गया था कि आरोपी ने गलत तरीके से भारतीय पासपोर्ट हासिल किया था।

मामले की जांच में पाया गया कि आरोपी ने भारतीय पासपोर्ट हासिल करने के लिए कुछ अज्ञात लोगों के साथ मिलकर बरेली के पासपोर्ट कार्यालय में झूठे दस्तावेज जमा कराए और गलत सूचना दी। सीबीआई ने पिछले साल 23 जुलाई को बालकृष्ण के खिलाफ आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था। उन पर फर्जी डिग्री हासिल करने और पासपोर्ट के लिए फर्जी दस्तावेज देकर पासपोर्ट कानून की धारा-12 का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था।

Newsbeep

एजेंसी के अनुसार उसकी जांच में इस बात की पुष्टि हुई कि आरोपी ने सह-आरोपी से सांठगांठ कर हाई स्कूल और स्नातक की फर्जी डिग्री हासिल की और पासपोर्ट कार्यालय में ये फर्जी दस्तावेज जमा कराए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट भाषा से भी)