NDTV Khabar

रामजस कॉलेज विवाद : जालंधर में गुरमेहर कौर को मिली पंजाब पुलिस की सुरक्षा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रामजस कॉलेज विवाद : जालंधर में गुरमेहर कौर को मिली पंजाब पुलिस की सुरक्षा

जालंधर में गुरमेहर कौर को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई गई है

चंडीगढ़:

रामजस कॉलेज में मचे धमाल के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर ने खुद को इस आंदोलन से अलग करते हुए वापस पढ़ाई में जुटने की घोषणा की है. गुरमेहर दिल्ली छोड़कर अपने पैतृक शहर पंजाब के जालंधर चली गई है. पंजाब पुलिस ने वहां उनको सुरक्षा मुहैया कराई है.

जालंधर के पुलिस आयुक्त अर्पित शुक्ला ने बताया कि गुरमेहर के आवास पर दो महिला सिपाही तैनात की गई हैं. उन्होंने कहा कि डीयू की छात्रा को मिली कुछ धमकियों को देखते हुए उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई गई है.

डीयू के रामजस कॉलेज में एबीवीपी और आईसा सदस्यों के बीच हिंसक झड़प के बाद उन्हें कथित तौर पर बलात्कार की धमकी मिलने को लेकर दिल्ली पुलिस ने यौन उत्पीड़न और आपराधिक धमकी का मामला दर्ज किया है.

गुरमेहर ने रामजस कॉलेज में हिंसा के बाद ‘मैं एबीवीपी से नहीं डरती’मुहिम की शुरूआत की थी. यह मुहिम वायरल हो गई और कई विश्वविद्यालय के छात्रों और शिक्षकों से इसे काफी समर्थन मिला था और कई विरोध भी किया.


सोशल मीडिया पर शुरू हुए आरोप-प्रत्यारोप युद्ध के बाद एबीवीपी के खिलाफ अपने प्रदर्शन मार्च से पीछे हट गईं और अपने परिवार के पास जालंधर आ गई.

गुरमेहर कौर लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा है. वह कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी है जो कारगिल से पाकिस्तानी सैनिकों के हटने के चार दिन बाद जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में आतंकवादी हमले में शहीद हो गए थे.

(इनपुट भाषा से भी)

टिप्पणियां

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 17: अजय देवगन की 'तान्हाजी' ने 17वें दिन मचाया तूफान, बॉक्स ऑफिस पर बनाया रिकॉर्ड

Advertisement