RSS का बड़ा फैसला: रामलाल को बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री पद से हटाया, अब सौंपी ये जिम्मेदारी

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने संगठन में बड़ा बदलाव करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल को वापस बुलाया है. रामलाल को RSS के अखिल भारतीय सह-प्रमुख की बागडोर सौंपी गई है.

RSS का बड़ा फैसला: रामलाल को बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री पद से हटाया, अब सौंपी ये जिम्मेदारी

आरएसएस (फाइल फोटो)

खास बातें

  • आरएसएस में बड़ा बदलाव
  • बीजेपी संगठन महामंत्री रामलाल पद से हटे
  • अब होंगे RSS के सह-संपर्क प्रमुख
नई दिल्ली:

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने संगठन में बड़ा बदलाव करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल को वापस बुलाया है. रामलाल को RSS के अखिल भारतीय सह-प्रमुख की बागडोर सौंपी गई है. उनकी जगह पर बी सतीश को राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बनाया जा सकता है. बता दें कि आरएसएस के इस बदलाव को रामलाल की संठगन में मूल वापसी के तौर पर भी देखा जा रहा है. दरअसल रामलाल,बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री के पद से हटना चाहते थे और उन्होंने यह इच्छा पार्टी को भी जताई थी. दो साल पहले एक खत लिखकर रामलाल ने 

BJP विधायक की बेटी की शादी का मामला, SC-ST आयोग ने लिया संज्ञान, एसएसपी से रिपोर्ट मांगी

रामलाल ने 30 सितंबर 2017 को पीएम मोदी के नाम एक खत लिखा था. इस चिट्ठी में उन्होंने जाहिर किया था कि इस दायित्व को निभाते हुए मुझे 11 वर्ष बीत चुके हैं, मेरी आयु 65 वर्ष हो चुकी है, इसलिए आपसे अनुरोध है कि संबंधित अधिकारियों से परामर्श करके किसी अन्य को यह कार्य सौपें ताकि तेज गति से काम हो सके.  

hmnfkiro5 जुलाई 2019 को रामलाल ने अमित शाह को पत्र लिखकर 2017 में लिखी गई चिट्ठी को याद दिलाया कि लोकसभा चुनाव की तैयारियों की शुरुआत की वजह से आपको दायित्व परिवर्तन उपयुक्त नहीं लगा था. अब चुनाव संपन्न हो चुके हैं और सभी के परिश्रम से पार्टी को अच्छी जीत भी मिल चुकी है. लिहाजा अब दायित्व परिवर्तन किया जाए और इसके लिए यह समय भी उपयुक्त भी है. राम लाल के इस चिट्ठी के बाद सरकार की तरफ से उन्हें दायित्व से मुक्त भी कर दिया गया है.  

उत्तर प्रदेश : मुसलमानों के सलमानी समुदाय ने दलितों का बाल काटने से किया इनकार, SSP तक पहुंचा मामला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रामलाल साल 2006 से बीजेपी में संगठन महासचिव का काम देख रहे थे. उन्हें नई जिम्मेदारी मिल जाने के बाद बीजेपी अब नए संगठन मंत्री की नियुक्ति करेगी. बीजेपी में संगठन महासचिव आरएसएस की ओर से भेजे जाते हैं. केंद्रीय और राज्य स्तर पर संगठन महासचिवों की नियुक्ति होती है. इनका दायित्व संगठन से जुड़े निर्णय करना होता है. ये आरएसएस की सभी बैठकों में हिस्सा लेते हैं. बीजेपी में पार्टी अध्यक्ष के बाद संगठन महासचिव का पद सबसे महत्वपूर्ण होता है.

Video: नागपुर यूनिवर्सिटी में छात्र पढ़ेंगे राष्ट्र निर्माण में RSS का योगदान, कांग्रेस ने जताया विरोध