NDTV Khabar

राष्ट्रपति चुनाव : समर्थन जुटाने के लिए रामनाथ कोविंद रविवार को पहुंच सकते हैं लखनऊ

भारतीय जनता पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक एनडीए के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के उम्मीदवार कल राजधानी लखनऊ आ रहे है और वह यहां दोनों सदनों के सदस्यों से अपने लिये समर्थन मांगेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राष्ट्रपति चुनाव : समर्थन जुटाने के लिए रामनाथ कोविंद रविवार को पहुंच सकते हैं लखनऊ

सर्वाधिक आबादी वाले उत्तर प्रदेश के एक-एक वोट का महत्व भी सबसे ज्यादा है. ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश विधानसभा अधिकारियों की बैठकें शुरू
  2. रविवार को लखनऊ पहुंच सकते हैं रामनाथ कोविंद
  3. समर्थन जुटाने के लिए सांसदों-विधायकों से मिलेंगे कोविंद
नई दिल्ली: आगामी 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिये उत्तर प्रदेश विधानसभा द्वारा जोर शोर से तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं. विधानसभा के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति चुनाव से पहले सभी जरूरी तैयारियां की जा रही हैं तथा आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं. इसके लिये विधानसभा तथा चुनाव अधिकारियों के बीच व्यापक विचार विमर्श चल रहा है और बैठकें की जा रही हैं. चुनाव आयोग और विधानसभा अधिकारियों के बीच तैयारियों के लिये कल शाम एक बैठक हुई जिसमें व्यापक विचार विमर्श किया गया तथा चुनाव की रूपरेखा बनाई गई. इस बीच भारतीय जनता पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक एनडीए के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के उम्मीदवार कल राजधानी लखनऊ आ रहे है और वह यहां दोनों सदनों के सदस्यों से अपने लिये समर्थन मांगेंगे.

सर्वाधिक आबादी वाले उत्तर प्रदेश के एक-एक वोट का महत्व भी सबसे ज्यादा है. पहली बार, राष्ट्रपति चुनाव के लिये लिये विशेष स्याही वाला एक पेन भी दिल्ली से लखनऊ भेजा जा रहा है. इस विशेष कलम से वोटर अपने उम्मीदवार को वोट देंगे. भाजपा के सूत्रों ने बताया कि वैसे तो रामनाथ कोविंद के चौदहवें राष्ट्रपति बनने के लिये सभी आंकड़े उनके पक्ष में है लेकिन इस सर्वोच्च पद के लिये चुनाव हो रहा है इसलिये वह प्रदेश के जनप्रतिनिधियों से समर्थन मांगने के लिये लखनऊ आ रहे हैं.

टिप्पणियां
सूत्रों ने बताया कि कोविंद का अंतिम कार्यक्रम अभी तक नहीं आया है.  वह यहां भाजपा के सांसदों, विधायकों के अलावा सहयोगी पार्टियों तथा अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं से भी मिलेंगे. उनका यहां से उत्तराखंड जाने का कार्यक्रम है. गौरतलब है कि कोविंद उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिले के रहने वाले हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही कह चुके हैं कि यह उत्तर प्रदेश के लिये काफी गर्व की बात है कि उसका एक बेटा देश के सर्वोच्च पद पर पर बैठने जा रहा है.
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement