यह ख़बर 06 अक्टूबर, 2011 को प्रकाशित हुई थी

मनमोहन और सोनिया ने किया रावण दहन

मनमोहन और सोनिया ने किया रावण दहन

खास बातें

  • देश में दशहरा की धूम जारी है। कई स्थानों पर बुराई के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया गया। रामलीला मैदान पर पीएम ने तीर चलाकर रावण दहन किया।
नई दिल्ली:

देश में बुराई पर अच्छाई की जीत के त्योहार दशहरा की धूम जारी है। कई स्थानों पर बुराई के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया गया। दिल्ली के रामलीला मैदान पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने तीर चलाकर रावण दहन किया। सुभाष मैदान पर यूपीए अध्यक्षा सोनिया गांधी ने रावण के पुतले पर तीर चलाकर आग लगाई। इस मौके पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, दिल्ली की सीएम शीला दीक्षित के अलावा तमाम गणमान्य लोग मौजूद थे।बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक पर्व दशहरा आज देश भर में हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर रावण, मेघनाद और कुंभकरण के विशालकाय पुतले जलाए गए। श्रीराम लीला कमेटी द्वारा आयोजित रावण दहन कार्यक्रम में सिंह और सोनिया शाम करीब साढ़े छह बजे पहुंचे, जिसके बाद 15 मिनट तक आतिशबाजी हुई। इसके बाद रावण, कुंभकरण और मेघनाद के पुतलों का दहन किया गया। रामलीला मैदान में शाम 4 बजे से ही लोग वर्षों से हो रहे इस कार्यक्रम को देखने के लिये जुटने लगे थे। इससे पहले यहां नौ दिन तक रामलीला का मंचन भी किया गया। ढोल नगाड़ों की थाप, श्रद्धालुओं के नाच गान के साथ देवी दुर्गा का भी गुरुवार को विसर्जन किया गया। शाम ढलते ही देश भर में जगह..जगह रावण, मेघनाद और कुंभकरण के पुतले फूंके गए। इनमें भरे गए पटाखों से आसमान गूंज उठा और लोगों ने तालियां बजाकर अपनी खुशी जाहिर की। नौ दिनों तक चले इस उत्सव के दौरान देश के विभिन्न स्थानों पर रामलीला का भी आयोजन किया गया। यह पर्व महिषासुर नाम के राक्षस पर देवी दुर्गा की विजय का भी प्रतीक है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोगों ने परेड ग्राउंड में बुराई के इन प्रतीकों को धू..धू कर जलते देखा। उत्सव के समापन के अवसर पर देवी दुर्गा की सैकड़ों प्रतिमाओं को श्रद्धालुओं ने पवित्र नदियों में विसर्जित किया। दशहरा के अवसर पर जगह-जगह मेलों का भी आयोजन किया गया। राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और कई नेताओं ने इस खुशी के अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं दी और आशा जताई कि यह पर्व लोगों के जीवन में शांति, समृद्धि और खुशियां लाएगा।(इनपुट भाषा से भी)


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com