NDTV Khabar

फेसबुक डेटा ब्रीच की आरोपी कैम्ब्रिज एनालिटिका को PM के खिलाफ इस्तेमाल करना चाहते हैं राहुल गांधी: प्रसाद

फेसबुक के पांच करोड़ सदस्यों से जुड़ी जानकारियों का दुरुपयोग करने का आरोप कैंब्रिज एनालिटिका पर लगा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
फेसबुक डेटा ब्रीच की आरोपी कैम्ब्रिज एनालिटिका को PM के खिलाफ इस्तेमाल करना चाहते हैं राहुल गांधी: प्रसाद

रविशंकर प्रसाद की फाइल फोटो

खास बातें

  1. चुनावों को हनी ट्रैप और फेक न्‍यूज से प्रभावित करने की कोशिश की है
  2. हम प्रेस की आजादी का पूरा समर्थन करते हैं
  3. चुनावों को प्रभावित करने को न तो हम टॉलरेट करेंगे और न ही मंजूरी देंगे
नई दिल्ली: फेसबुक के पांच करोड़ सदस्यों से जुड़ी जानकारियों का दुरुपयोग करने का आरोप कैंब्रिज एनालिटिका पर लगा है. इस पर सूचना प्रौद्योगिक मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कैंब्रिज एनालिटिका ने चुनावों को हनी ट्रैप और फेक न्‍यूज से प्रभावित करने की कोशिश की है. कैंब्रिज एनालिटिका भारत, नाइजीरिया जैसे देशों में काम किया और हम प्रेस की आजादी का पूरा समर्थन करते हैं. मैं कानून और आईटी मंत्री के तौर पर कह रहा हूं कि सोशल मीडिया जिसमें फ़ेसबुक शामिल है का दुरुपयोग कर चुनावों को प्रभावित करने को न तो हम टॉलरेट करेंगे और न ही मंजूरी देंगे. 

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि फेसबुक यह बात नोट कर ले. अगर जरूरत पड़ी तो सख्त कार्रवाई करेंगे. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस इसका उपयोग क्यों कर रही है? कांग्रेस का कैंब्रिज एनालिटिका से प्रेम क्यों है? ईटी की खबर के मुताबिक, राहुल कैंब्रिज एनालिटिका नाम के ब्रह्मास्त्र का इस्तेमाल 2019 में मोदी के खिलाफ करना चाहते थे.उन्‍होंने क्या कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए अब डेटा चोरी का इस्तेमाल करेगी? सेक्स स्‍लेव और फेक न्यूज के रास्ते को कांग्रेस अपनाएगी जैसा कैंब्रिज एनालिटिका ने किया? इस संगठन की राहुल की सोशल मीडिया प्रोफाइल में क्या भूमिका है?
 
अभी राहुल गांधी की ट्विटर फॉलोवर काफी बढ़े हैं. क्या फेक फॉलोवर बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल किया. हमारे पीएम कहते हैं कि डिजिटली कनेक्ट रहें और फिजकली कनेक्ट रहें, लेकिन यह ऐसा नहीं कर रहे 20 करोड़ भारतीय फेसबुक पर हैं.  उन्‍होंने कहा कि मार्क जुकरबर्ग भारत के आईटी मंत्री के शब्‍दों चिहिन्‍त कर लें. हम ऐसे किसी भी कदम को बर्दाश्त नहीं करेंगे. अगर जरूरत पड़ी तो आपको बुलाया भी जा सकता है. 

टिप्पणियां
आपको बता दें कि कैंब्रिज एनालिटिका पर फेसबुक के पांच करोड़ सदस्‍यों से जुड़ी जानकारियों का दुरुपयोग करने आरोप लगा है. इसके बाद कंपनी ने अपने चीफ एक्जीक्यूटिव अलेक्जेंडर निक्स को सस्पेंड कर दिया है. कैंब्रिज एनालिटिका वहीं कंपनी है जिसने 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति पद के चुनाव के दौरान डोनाल्ड ट्रंप की कैंपेनिंग की थी. 

गौरतलब है कि फेसबुक के शेयर लुढ़क गए है. बाज़ार भाव से क़रीब 40 अरब डॉलर का नुक़सान हुआ है. दुनिया के सबसे अमीर लोगों के फोर्ब्स लाइव ट्रैकर के मुताबिक मार्क जुकरबर्ग की अपनी दौलत को 5.5 अरब से 6.9 डॉलर तक की चोट पड़ गई. फिर उसकी जांच भी शुरू हो गई है. सीनेट की न्यायिक समिति ने फेसबुक, ट्विटर और गूगल के सीईओ को सुनवाई के लिए बुलाया. और अब डिलिट फेसबुक कैंपेन शुरू हो गया है, जिसमें कई बड़ी आवाज़ें शामिल हैं. मामला पांच करोड़ यूजर्स की सूचनाओं के लीक और इस्तेमाल का है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement