NDTV Khabar

जुनैद की हत्या पर बोले रविशंकर प्रसाद - ऐसी घटना बर्दाश्त नहीं करेगी सरकार

कानून मंत्री ने हरियाणा के बल्लभगढ़ में भीड़ द्वारा मुस्लिम युवकों के साथ मारपीट और जुनैद नाम के किशोर की हत्या की कड़ी शब्दों में निंदा की

21672 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जुनैद की हत्या पर बोले रविशंकर प्रसाद - ऐसी घटना बर्दाश्त नहीं करेगी सरकार

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि हरियाणा में ट्रेन में हुई हत्या जैसी घटनाएं सरकार सहन नहीं करेगी.

खास बातें

  1. कानून मंत्री बोले, कोई अगर हिंसा करेगा को कानून अपना काम करेगी
  2. मामले में कानून बेहद सख्त है, जरूरत सिर्फ सख्ती से पालन करवाने की है
  3. रविशंकर प्रसाद ने कश्मीर में डीएसपी की हत्या पर भी अफसोस जताया
नई दिल्ली: केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि 16 साल के लड़के की हत्या और उसके भाइयों पर गौमांस ले जाने का आरोप लगाते हुए भीड़ का हमला बहुत दुखद और शर्मनाक है. सरकार इस तरह के हमले सहन नहीं करेगी.  

देश में भीड़ जिस तरह से अलग-अलग राज्यों में हिंसक घटनाओं को अंजाम दे रही है उससे सरकार में चिंता बढ़ती जा रही है. एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि ऐसी घटनाओं से सख्ती से निपटने के लिए नया कानून बनाने की जरूरत नहीं है. इनसे निपटने के लिए मौजूदा कानूनों को सख्ती से लागू करना होगा.

दिल्ली से फरीदाबाद के बीच चलती ट्रेन में एक भीड़ ने अल्पसंख्यक समुदाय के चार लड़कों को बुरी तरह मारा, जिसमें से एक जुनैद की मौत हो गई. उसके गांव में ईद नहीं मनाई गई. उधर श्रीनगर की जामिया मस्जिद के बाहर एक दूसरी भीड़ ने डीएसपी अयूब पंडित की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

अलग-अलग बहानों से लगातार हिंसक होती भीड़ के साथ सख्ती से निपटने की जरूरत है- यह बात देश के कानून मंत्री ने एनडीटीवी इंडिया से कही है. रविशंकर प्रसाद ने कहा, "हिंसक भीड़ के खिलाफ सख्ती से निपटने के लिए मौजूदा कानून में फांसी की सजा से लेकर उम्र कैद तक का प्रावधान है. उसे सख्ती से लागू करना बेहद जरूरी हो गया है.

यह भी पढ़ें - जुनैद की हत्या का विरोध : खन्दावली में लोगों ने काली पट्टी बांधकर पढ़ी नमाज, ईद नहीं मनाई

कानून मंत्री ने याद दिलाया कि प्रधानमंत्री खुद गौरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों से सख्ती से निपटने की बात कह चुके हैं.  नरेन्द्र मोदी ने पिछले साल सात अगस्त को कहा था, "ये जो नकली गौ-रक्षक हैं - जिनको गाय से लेना-देना नहीं है. वे समाज में तनाव पैदा करना चाहते हैं. ऐसे नकली गौ-रक्षकों की छानबीन कीजिए और उन पर कठोर कार्रवाई कीजिए."

उधर जयपुर में गृह सचिव राजीव महर्षि ने इंडिया टुडे कॉनक्लेव में कहा, मुझे नहीं लगता कि हेट क्राइम भारत में नया है. यह सामंतवादी सोच से जुड़ा है. मुझे लगता है कि ऐसी घटनाओं को बढ़ा-चढ़ाकर रिपोर्ट किया जाता है."

जबकि विपक्ष ऐसी घटनाओं के लिए सत्ताधारी दल को ही जिम्मेदार बता रहा है. जेडी-यू नेता अली अनवर ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा "सत्ताधारी राजनीतिक दल ने ही माहौल खराब किया है जिससे इस तरह की घटनाएं हो रही हैं. जो लोग हिंसक घटनाओं को अंजाम देते हैं उन्हें लगता है कि सत्ता में बैठी सरकार उन्हें बचा लेगी. उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी."

अली अनवर कहते हैं कि जिस तरह देश के अलग-अलग राज्यों में भीड़ हिंसक वारदातों को अंजाम दे रही है उससे कई बड़े और संवेदनशील सवाल खड़े हो रहे हैं और अब वे इस मामले को संसद के आगामी मॉनसून सत्र में उठाने की तैयारी कर रहे हैं.

गौरतलब है कि हरियाणा के बल्लभगढ़ स्टेशन पर गुरुवार को एक चौंकाने वाला हादसा हुआ. यहां मुस्लिम समुदाय के चार लड़कों को इतना पीटा गया कि एक की मौत हो गई और तीन घायल हो गए. घटना से नाराज इन लड़कों के गांव खंदावली और उसके आसपास के गांव के लोग ईद नहीं मना रहे हैं. लोगों ने यहां काली पट्टी बांधकर ईद की नमाज अदा की और इंसाफ की मांग की. मामले में सिर्फ एक आरोपी की अब तक गिरफ्तारी हो सकी है. वहीं, पुलिस ने बाकी अपराधियों को पकड़ने के लिए एक लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है.

कश्मीर की घटना पर भी दुख जताया
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कश्मीर में भीड़ द्वारा एक डीएसपी की हत्या की भी निंदा की है. उन्होंने कहा कि कश्मीर में एक ईमानदार डीएसपी की हत्या हुई है जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. गौरतलब है कि पुलिस उप अधीक्षक मोहम्मद अयूब पंडित का शव शुक्रवार को सुबह पुराने शहर के नौहट्टा में जामिया मस्जिद के बाहर से बरामद हुआ था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement