NDTV Khabar

RBI ने की रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती, रिवर्स रेपो रेट और बैंक रेट में भी हुआ बदलाव, सस्ता हो सकता है लोन

रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की गई है. इसे 6 फीसदी से घटाकर 5.75 फीसदी कर दिया गया है. रेपो रेट घटने से लोन सस्ता हो सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की
  2. 6 फीसदी से घटाकर 5.75 फीसदी किया गया रेपो रेट
  3. रिवर्स रेपो रेट और बैंक रेट को भी किया गया एडजस्ट
नई दिल्ली:

भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की है. इसे 6 फीसदी से घटाकर 5.75 फीसदी कर दिया गया है. रेपो रेट घटने से लोन सस्ता हो सकता है. रिवर्स रेपो रेट और बैंक रेट को भी एडजस्ट किया गया है. इसे क्रमश: 5.50 फीसदी और 6.0 फीसदी किया गया है. रेपो रेट में यह कटौती तीसरी बार की गई है. रिजर्व बैंक ने 2019-20 के लिये जीडीपी वृद्धि दर अनुमान को पहले के 7.2 प्रतिशत से घटाकर 7 प्रतिशत किया. रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति के सभी सदस्य रेपो दर में 0.25 प्रतिशत की कटौती और नीतिगत रुख में बदलाव के पक्ष में रहे. मौद्रिक नीति समिति की बैठक का ब्योरा 20 जून 2019 को जारी किया जाएगा. समिति की अगली बैठक 5-7 अगस्त 2019 को होगी.

मोदी सरकार की 8 कैबिनेट कमेटियों में राजनाथ सिंह को केवल 2 में जगह, अमित शाह सभी में शामिल


रेपो रेट में कटौती से लोन सस्ता होने की संभावना है. इसका असर होम लोन, कार लोन और बाकी तरह के लोन पर पड़ेगा और ग्राहकों को ईएमआई में भी सुविधा मिलेगी. हालांकि जमाकर्ताओं को बैंक जमा पर कम कमाई होगी. बीते महीने में आधिकारिक आंकड़ों के सामने आने के बाद रेपो रेट में कमी की गई है. आंकड़ों में बताया गया था कि देश की जीडीपी में 31 मार्च तक 5.8 फीसदी की बढो़तरी हुई. इसका मतलब है कि भारत तेजी से बढ़ने वाली इकोनॉमी का स्टेटस खो चुका है क्योंकि चीन ने इन तीन महीनों में जीडीपी में 6.4 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की थी. (इनपुट:भाषा)

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement