रिलायंस की 'जियो गीगा फाइबर' सेवा आज से शुरू, 700 रुपये महीने में इंटरनेट, मुफ्त फोन कॉल, एचडी टीवी और डिश

रिलायंस जियो की ब्रॉडबैंड सेवा 'जियो गीगा फाइबर' आज से शुरू हो जाएगी. इस प्लान की खास बात यह है कि कंपनी न्यूनतम 100 एमबीपीएस की इंटरनेट गति, आजीवन मुफ्त फोन कॉल, मुफ्त एचडी टीवी और डिश देगी जिसका न्यूनतम शुल्क 700 रुपये महीना होगा. जियो लैंड लाइन से 500 रुपये महीने देकर अमेरिका और कनाडा में असीमित अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल भी की जा सकेगी. जियो गीगा फाइबर की सबसे कम स्पीड 100 एमबीपीएस होगी.

रिलायंस की 'जियो गीगा फाइबर' सेवा आज से शुरू, 700 रुपये महीने में इंटरनेट, मुफ्त फोन कॉल, एचडी टीवी और डिश

खास बातें

  • रिलायंस की 'जियो गीगा फाइबर' आज से शुरू
  • न्यूनतम शुल्क 700 रुपये महीना होगा
  • कमसे कम 100 एमबीपीएस की मिलेगी स्पीड
नई दिल्ली:

रिलायंस जियो की ब्रॉडबैंड सेवा 'जियो गीगा फाइबर' आज से शुरू हो जाएगी. इस प्लान की खास बात यह है कि कंपनी न्यूनतम 100 एमबीपीएस की इंटरनेट गति, आजीवन मुफ्त फोन कॉल, मुफ्त एचडी टीवी और डिश देगी जिसका न्यूनतम शुल्क 700 रुपये महीना होगा. जियो लैंड लाइन से 500 रुपये महीने देकर अमेरिका और कनाडा में असीमित अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल भी की जा सकेगी. जियो गीगा फाइबर की सबसे कम स्पीड 100 एमबीपीएस होगी. जियो गीगा फाइबर' के प्लान 700 रुपये से 10,000 रुपये महीना तक होंगे. इसके अलावा साल 2020 के मध्य तक जियो गीगा फाइबर के प्रीमियम ग्राहक घर बैठे फिल्म के रिलीज के दिन ही उसे देख सकेंगे. इसे जियो ने 'फर्स्ट डे फर्स्ट शो' का नाम दिया है. अभी तक कंपनी ने सर्विस को शुरू करने के लिए कोई चार्ज नहीं ले रही है बस एक सिक्योरिटी फीस शुरू करनी पड़ेगी जो कनेक्शन हटने के बाद वापस ले ली जाएगी. हालांकि अभी फाइबर सर्विस के प्लान की कोई लिस्ट जारी नहीं की है. जो लोग सालाना प्लान लेंगे उनको एलईडी टीवी और फ्री सेटअप बॉक्स मिल सकता है. 

Jio Fiber प्लान, सेट-टॉप बॉक्स व लैंडलाइन सर्विस आज होंगे लॉन्च, जानें ज़रूरी बातें

डीटीएच को लग सकता है झटका
रिलायंस जियो के कई सारी सुविधाओं वाले ब्रॉडबैंड प्लान से डीटीएच (डायरेक्ट टू होम) कंपनियों पर ‘सबसे अधिक खतरा' मंडरा सकता है. बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने मंगलवार को जारी अपनी एक रपट में यह आशंका जतायी है. रपट के अनुसार इसका कुछ नुकसान भारती एयरटेल को होने की संभावना है, क्योंकि जियो कारपोरेट और घरों में उपलब्ध कराए जाने वाले इंटरनेट सेवा क्षेत्र में उतरने से इसमें प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी. रपट में कहा गया है कि रिलायंस के ब्रॉडबैंड और केबल सेवा को मिलाकर सेवा देने से सबसे बड़ा संकट डीटीएच कंपनियों पर है. इसका प्रत्यक्ष प्रभाव प्रसारकों पर नहीं पढ़ेगा लेकिन अप्रत्यक्ष प्रभाव उनके उपयोक्ता राजस्व पर पड़ेगा.    यदि अमेजन प्राइम और नेटफ्लिक्स से प्रतिस्पर्धा करने के लिए अच्छी गुणवत्ता वाले कटेंट के निर्माण पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है और विज्ञापनदाताओं का खर्च ऑनलाइन कंटेट पर बढ़ता है तो दीर्घावधि में यह विज्ञापन व्यय को प्रभावित करेगा. 

5 सितंबर को लॉन्च होगा रिलायंस का जियो फाइबर​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com